कभी लगता जहां नक्सलियों का डेरा, अब लगती है पाठशाला, थाना बनता है स्कूल और प्रभारी शिक्षक

पलामू ‎बड़ी ख़बर

हुसैनाबाद (पलामू) : अनुमंडल क्षेत्र के अति उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र महुड़ड पंचायत कभी नक्सलियों का सुरक्षित रैन बसेरा होता था. नक्सलियों के भय से पुरा पंचायत क्षेत्र आक्रांत था. लेकिन आज महुड़ड ओपी थाना परिसर निर्माण से जनता प्रशासन चैन कि आहें भर रहि है. सड़क, शिक्षा, चिकित्सा जैसी मूलभूत सुविधाओं की बात पंचायत क्षेत्र के सभी गांव के लिए बेमानी थी. लेकिन पिकेट स्थापना के बाद गांव में परिवर्तन हो रहा है. पिकेट प्रभारी उपेंद्र पासवान के सराहनीय पहल से गांव में हो रहे सड़क निर्माण की सुरक्षा व्यवस्था से लेकर पिकेट परिसर में ग्रामीणों के लिए निशुल्क नेत्र जांच शिविर लगाकर ग्रामीणों का इलाज कराने में अपना महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं.

पारा शिक्षकों के हड़ताल के कारण पंचायत क्षेत्र के लगभग सभी सरकारी विद्यालय में ताला लटका हुआ है और बच्चों का भविष्य अंधकारमय हो रहा है. ऐसी परिस्थिति में महुड़ड ओपी प्रभारी उपेन्द्र पासवान सैकड़ों गरिब के बच्चों को ओपी परिसर में बैठाकर निष्ठा पवूर्क बच्चों को शिक्षा देने का कार्य कर रहे हैं. उनके कुशल व्यवहार और कार्य कौशल से क्षेत्र की जनता भुरी-भुरी प्रशंसा करते हुए धन्यवाद दे रही है. शिक्षा देने के दौरान ओपी प्रभारी ने असहाय बच्चो को निशुल्क किताब कौपी कलम खाना अपने माध्यम से देने का कार्य करते हैं.

महुडंड पंचायत क्षेत्र की जनता ने पत्रकारों को बताया कि ऐसे प्रशासनिक पदाधिकारी आजादी के बाद पहली बार देखा है. बच्चों ने बताया कि ओपी प्रभारी हमारे सुख-दुख के साथी हैं. मौके पर कुरदाम सिंह, नागेन्द्र सिंह, संजय परहिया, धनंजय परहिया, सुदामा परहिया,  गुप्तेश्वर परहिया, रितेश परहिया, विगनी देवी, ममिला देवी, फूलवा देवी अनिता देवी, बेलास मेहता, नैनवास देवी सहित पिकेट के सैकड़ों जवान मौजूद थे.

सभी प्रशासनिक पदाधिकारी ठान ले, तो हो सकता है बड़ा समाजिक बदलाव – ओपी प्रभारी

महुडंड पिकेट के ओपी प्रभारी उपेंद्र पासवान ने कहा कि अगर सभी प्रशासनिक पदाधिकारी ठान ले, तो बहुत बड़ा समाजिक बदलाव किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि नौकरी के साथ-साथ समाजिक कार्यों में अभिरूचि लेना हम सभी की जिम्मेदारी है. जरूरत है कि अपने बहुमूल्य समय में से थोड़ा समय अपने समाज और परिवेश में देने की.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *