मेदिनीनगर : हम जान लेने के नहीं जीवनदान करने के हिमायती हैं : अविनाश देव

पलामू

मेदिनीनगर : फुलवामा के शहीद बीर जवानों को गर्मजोशी भरा क्रान्तिकारी जोहर।पाक के इस नापाक हरकतों को तीखे लफ़्ज़ों में कड़ा भर्त्सना करता हूँ । इस गंगा जमुनी तहजीब के साझी बिरासत को दागदार करने वाले को किसी भी कीमत पर बक्सा नहीं जाएगा।मैं सवाल करता हूँ वे हत्यारों से जिनकी बुढ़ापे का लाठी टूट गया, जिनकी राखी का कलाई चला गया, माँ का आँचल सुना पड़ गया। भाई का हिम्मत हार गया, मासूम बच्चोँ का साया उठ गया,और तो और जिस नवबधु के शादी का महावर तक नहीं छूटा और मांग उजड़ गए ये सबों ने क्या बिगाड़ा था ? राजनैतिक लड़ाई हो सकती है पर बेगुनाह अवाम का क्या दोष ।मै मांग करता हूँ  दिल्ली सल्तनत के वज़ीर-ए-आजम से कि आईन्दे जान जोखिम में डाल सीमा सुरक्षा मे तैनात मुल्क के हिफाज़त में जवानों पर कातिलाना हमला न हो हर कोशिश सम्भव किया जाए।

राजनैतिक प्रतिद्वंदी में भी राष्ट्र सुरक्षित रहे हम इसके हिमायती हैं। मेरा बाप भी कातिल या कातिलाना हरकत  करे मैं नहीं बक्स सकता हुँ।आज पुरा मुल्क मातमी सन्नाटा में खा़मोश मुक दर्शक है।हम इस खामोशी के खिलाफ हैं। शायद अच्छे प्रधानमंत्री के चेहरा धूमिल करने का साजिशाना चाल भी है।

शहीद जवानों के सम्मान में संत मरियम आवासीय विद्यालय के बच्चे शिक्षक, शिक्षिका, कर्मचारी,प्रधानाध्यापक,विद्यालय के निदेशक सह झारखंड सरकार झारखंड माटीकला बोर्ड के सदस्य अविनाश देव ने मोमबत्ती जला कर मेदिनीनगर के विभिन्न संड़को से होते हुए छःमुहान पर गमगीन हालत में नम आँखों से सामुहिक श्रद्धान्जली अर्पित किया। अखण्ड भारत के एकता भाईचारा, अमन व शांति के नारे लगाए। कहा शहीदों के सपनो को मंजिल तक पहुचाएंगे।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *