सड़क किनारे लावारिस अवस्था में मिली युवती

पलामू

लाख कानून बन जाए लाख कोशिश की जाए पर लड़कियां कब सुरक्षित होंगी यह कहना बड़ा मुश्किल है इस वक्त जहां पूरे देश में महिलाओं की सुरक्षा के लिए लोग आंदोलन कर रहे हैं, कहीं कैंडल मार्च निकाले जा रहे हैं, वहीं लड़कियों के साथ दुर्व्यवहार के मामले कम होने के बजाय हर रोज सामने आते जा रहे हैं यदि हम सिर्फ पलामू की बात करें तो बीते 2 दिनों में एक पाटन थाना क्षेत्र से और एक लेस्लीगंज की महिला के साथ शर्मनाक मामले सामने आए , तो वही आज फिर एक युवती लावारिस अवस्था में सड़क किनारे पड़ी मिली ।

छतरपुर जपला मुख्य पथ स्थित खडार मोड के समीप राहगीरों ने देखा कि एक युवती घायल अवस्था में पड़ी हुई है पहले तो लोग रुकने से कतरा रहे थे हालांकि कुछ युवकों ने हिम्मत दिखाकर घटनास्थल पर रुक कर पुलिस को इसकी सूचना दी, जिसके बाद हुसैनाबाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर युवती को एंबुलेंस से हुसैनाबाद ले गई । हालांकि युवती की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है और सड़क किनारे वह आई कैसे , क्या किसी ने जानबूझकर युवती को चोटिल कर सड़क किनारे लावारिस अवस्था में छोड़ दिया , या फिर किसी वाहन की चपेट में आने से युवती सड़क किनारे पड़ी हुई थी, या कुछ और मामला है …यह अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है हालांकि प्रशासन मामले की छानबीन कर रही है लेकिन मामला चाहे जो भी हो एक बात तो तय है कि आज भी हमारे समाज में लड़कियां सुरक्षित नहीं है….

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *