चंदवा : ट्रेन के धक्के से ट्रक हुआ दुर्घटनाग्रस्त, बाल-बाल बचे चालक-उपचालक

ब्रेकिंग न्यूज़ लातेहार

चंदवा (लातेहार) : दक्षिण पूर्व रेल के टोरी-लोहरदगा रेल लाइन के गुरीटाड़ (हड़गड़वा) गांव के समीप बने रेलवे क्रॉसिग पर ट्रेन के धक्के से एक 12 चक्का ट्रक दुर्घटनाग्रस्त हो गया। मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार की अहले सुबह ट्रक (ओडी 14 ई 9101) चंदवा की ओर से खलारी कोलियरी जाने के क्रम में गुरीटाड़ के समीप मानव रहित केबिन से गुजर रहा था। ट्रक का लगभग हिस्सा रेल लाइन से निकल चुका था। इसी बीच टोरी की ओर से गुजरती एक मालगाड़ी ने ट्रक के पिछले हिस्से को टक्कर मार दी। इससे ट्रक दुर्घटनाग्रस्त हो गया। ट्रेन की गति का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि ट्रेन की टक्कर के बाद ट्रक क्रॉसिग पाइप को तोड़ता केबिन में जाकर लटक सा गया। इससे चालक कबीर (लातेहार) तथा उपचालक आरिफ (औरंगाबाद) बाल-बाल बच गए। घायल चालक का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चंदवा में किया गया।

हादसा टला : टोरी-लोहरदगा रेल लाइन के गुरीटाड़ स्थित मानवरहित रेल फाटक पर मालगाड़ी की चपेट में ट्रक के आने के बाद बड़ा हादसा टल गया। खाली ट्रक की जगह यदि कोई यात्री वाहन दुर्घटनाग्रस्त हुआ होता या सीधे भिड़ंत हुई होती तो बड़े हादसे से इंकार नहीं किया जा सकता था।

गलती किसकी रेल प्रबंधन या ट्रक चालक की : साउथ जोन के टोरी-बोदा स्टेशन के बीच हुए रेलगाड़ी की चपेट में आने से ट्रक के दुर्घटना के बाद एक बात चर्चा में रही कि आखिर गलती किसकी। रेल प्रबंधन की या ट्रक चालक की। ट्रक चालक के इलाज के दौरान उपचालक आरिफ ने बताया कि उनके आगे-आगे दो वाहन और थे। क्रॉसिग खुली थी। अन्य वाहनों को पार करते देख वो लोगे भी ट्रक पार कर रहे थे। तीखा मोड़ होने के कारण वहां से गुजरती ट्रेन का न तो लाइट दिखा और न हॉर्न बजाया गया और वो लोग मालगाड़ी की चपेट में आ गए। वहां मौजूद रेल कर्मी (केबिन मैन) की मानें तो रात में आवागमन कम होने के कारण ट्रेनों का परिचालन प्रिकोशन (धीरे-धीरे व हार्न बजाने) के साथ होता है। रात में केबिन मानव रहित रहता है।

कहता है रेल प्रबंधन : टोरी रेल प्रबंधन के अशोक कुमार ने बताया कि उक्त क्रॉसिग उनके कार्यक्षेत्र के अधीन नहीं आता। कहा कि मानव रहित क्रॉसिग पार करने के पहले यह सुनिश्चित कर लें कि किसी ओर से कोई गाड़ी नहीं आ रही हो। उसके बाद ही क्रॉसिग पार करें। थोड़ी असावधानी बड़ी दुर्घटना का कारण बन सकता है।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *