लातेहार : बीडीओ की पहल पर रूका नाबालिग का विवाह

ब्रेकिंग न्यूज़ लातेहार

लातेहार : बाल विवाह की रोकथाम के प्रति सजगता के कारण लातेहार में सोमवार को एक नाबालिग बालिका वधु बनने से बच गई। मामला लातेहार सदर प्रखंड के हेठलोटो गांव का है। गांव की एक नाबालिग लड़की के परिजनों ने उसकी शादी चतरा जिले के बरैनी गांव में तय कर दिया था। 19 अप्रैल को शादी को लेकर कार्ड वितरण और अन्य तैयारियां शुरू हुई तो लोगों को इसका पता चला। वेदिक सोसाइटी के सदस्यों ने मामले की जानकारी लातेहार प्रखंड विकास पदाधिकारी गणेश रजक को दी। सूचना मिलते ही बीडीओ अपनी टीम के साथ गांव पहुंचे और दस्तावेजों की जांच करने पर पाया कि लड़की की उम्र 18 वर्ष से कम है। इसके बाद उन्होंने लड़की के परिजनों को कागजात के साथ प्रखंड कार्यालय बुलाया। जहां सभी कागजात की बारिकी से जांच की गई तो लड़की के नाबालिग होने का मामला साफ हुआ। तब बीडीओ ने कहा कि लड़की के बालिग होने तक शादी नहीं हो सकती। बीडीओ के निर्देश को मानने में लड़की के परिजनों ने असमर्थतता व्यक्त की तो उन्होंने स्पष्ट कहा कि यदि शादी नहीं रूकी तो शादी में शामिल लोगों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कर विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी। इसके बाद परिजन माने और सभी तैयारियों को बंद कराया।

नाबालिग की शादी अपराध है, अभी लड़की की पढ़ने की उम्र है। इस गैरकानूनी कार्य से ग्रामीणों को समझा कर रोक दिया गया है, मुझे खुशी है कि ग्रामीण सहर्ष प्रशासन की बात मानकर अपनी नाबालिग बेटी की शादी नहीं करने को तैयार हो गए।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *