मेदिनीनगर : स्वीपर ने निकाला खून, सीएस ने लगाई फटकारा

पलामू ब्रेकिंग न्यूज़

मेदिनीनगर : पलामू प्रमंडलीय सदर अस्पताल के ब्लड बैंक का सिविल सर्जन डॉ जॉन एफ कनेडी ने गुरूवार को निरीक्षण किया। इस दौरान ब्लड बैंक में व्याप्त अव्यवस्था पर वे भड़क उठे। कर्मचारियों की कमी को दूर करने का निर्देश दिया। दरअसल, उन्हें वाट्सएप पर शिकायत मिली थी कि वहां एक स्वीपर रक्तदाता का ब्लड निकाल रहा है। यह गलत है। शिकायत के आधार पर अचानक वे ब्लड बैंक पहुंचे। मामले की जांच की। बताया गया कि ब्लड बैंक में महज चार कर्मचारी ही कार्यरत हैं। टेक्नीशियन खाना खाने गए हुए थे। मजबूरीवश जनहित में स्वीपर रक्त निकाल रहा था। सिविल सर्जन ने कहा कि संबंधित कर्मचारी अपना-अपना काम करें। साथ ही अधीक्षक कार्यालय के प्रधान लिपिक को निर्देश दिया गया कि अविलंब दो कर्मचारियों की ब्लड बैंक में प्रतिनियुक्ति करें। इधर, सिविल सर्जन डा जॉन एफ कनेडी ने बताया कि स्वीपर द्वारा ब्लड निकालने संबंधित मामला वाट्सएप पर दौड़ रहा था। नतीजा मामले की जांच करने वाले ब्लड बैंक पहुंचे। मामला सही पाया गया। उन्होंने बताया कि ब्लड बैंक में कर्मचारियों की कमी है। बावजूद कार्य अधिक है। हर दिन 45-50 यूनिट ब्लड आदान-प्रदान होता है। संबंधित स्वीपर को हिदायत दी गई है कि वे भविष्य में इस तरह का कार्य नहीं करें। साथ ही दो कर्मचारियों की प्रतिनियुक्ति संबंधित निर्देश दिया गया है। जानकारी के अनुसार एक निजी अस्पताल में भर्ती फिलिस्ता मिज नामक मरीज को ओ पोजेटिव ब्लड की आवश्यकता थी। जानकारी मिलने पर चैनपुर के तलेया निवासी ममता देवी वहां पहुंची और रक्तदान दिया। ममता का ही रक्त टेक्नीशियन की गैर-मौजूदगी में ब्लड बैंक के एक स्वीपर ने निकाला। हालांकि इस मसले पर संबंधित रक्तदाता की ओर से कोई शिकायत नहीं की गई है।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *