अब तक पूछती थी मीडिया, अब पूछेंगे पलामू उपायुक्त !

पलामू ‎बड़ी ख़बर

पलामू : “मिडिया मिलन संवाद” ये नाम सुनकर ही आप समझ गये होंगे कि यहां मिडिया की होड़ लगी होगी. तो जी हां, जिले के प्रधान कर्ता-धर्ता यानि प्रशासनिक मालिक उपायुक्त के कार्यालय में ही पत्रकारों का जमावड़ा लगा.और ये अब हर माह लगेगा भी, क्योंकि सरकारी निर्देश पर मिडिया के माध्यम से हर समस्या का निदान बताने और परेशानीयों को जानने के लिए जिला प्रशासन ने हर माह मिडिया  मिलन संवाद के माध्यम से विकास के अवरोधों को दूर करने का प्रयास करेगी.पलामू समहरणालय स्थित कार्यालय में मिडिया से बातचीत के दौरान उपायुक्त डॉ शांतनु कुमार अग्रहरी ने कई नयी और लोककल्याणकारी नीतियों से अवगत कराया. खासकर दिपावली में पटाखों को लेकर सुरक्षा मानकों पर चर्चा की वहीं सुखाड़ और भूख से मौत जैसी त्रासदी पर जिला प्रशासन की संवेदनशीलता को भी जाहिर किया. उनकी माने तो सभी पंचायतो में आकष्मिक खाद्यान्न निधि का गठन कर जरूरतमंदों को तत्काल राहत दिलाने की व्यवस्था सुदृढ़ की जाएगी. जिला प्रशासन ने द्वारा सुखाड़ व भुख की स्थिति को देखते हुए पुर्व से इस तरह की तैयारी शुरू कर दी गई है. अपने कार्यालय मे मीडिया मिलन संवाद कार्यक्रम में पत्रकारों से बात करते हुए उपायुक्त ने कहा कि सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन के साथ-साथ जिला प्रशासन लोगों को किसी भी तरह के आपदा एवं परेशानी से बचाने को लेकर तत्पर और क्रियाशील है.

उपायुक्त ने कहा कि सुखाड़ को देखते हुए 21 प्रखण्डों के सभी राजस्व ग्रामों में फसलों की स्थिति का जायजा लेने के लिए टीम गठित की गई है. टीम द्वारा इन गांवों के पाँच प्लॉट में लगे फसलों के संबंध में जानकारी प्राप्त की जाएगी. टीम को फसल के विभिन्न स्टेज, फल तथा दानों के बारे में जानकारी लेकर 08 नवम्बर तक सम्पर्ति करने का निर्देश दिया गया है. इसके साथ ही सभी 283 पंचायतों में आकष्मिक खाद्यान निधि के लिए 10000/- रूपयें अग्रिम राशि उपलब्ध कराये गए है. डॉ अग्रहरी ने स्पष्ट किया कि कही भी किसी तरह की भुख व आपदा के स्थिति देखे जाने पर उन्हे सीधे सुचित किया जा सकता है. इसके लिए व्हाट्स अप पर संदेश भेज कर सुचित किया जा सकता है.

उपायुक्त ने पत्रकारों से बात करते हुए बताया कि छत्तरपुर, पाटन और बिश्रामपुर प्रखण्ड में स्थिति का जायजा लेने हेतु टीम भेजी गयी है, जो आच्छादन के साथ-साथ नमी की स्थिति का आकलन कर रही है. वहीं उपायुक्त द्वारा सभी 2450 स्कूल में मध्याह्न भोजन सुचारू रूप से चलाने के साथ-साथ आदिम जनजातियों को दिए जाने वाले डाकिया योजना के तहत दिए जाने वाले राशन के कार्यक्रम को कारगर किए जाने की बात कही. उन्होने यह भी बताया कि आंगनबाड़ी बंद पाए जाने पर सेविकाओं के खिलाफ कड़ी कारवाई की जाएगी. पेयजल समस्या को देखते हुए चापानल की मरम्मति तथा विशेष मरम्मति को लेकर कोष की मांग सरकार से किए जाने की जानकारी भी उपायुक्त ने दी. 
पलामू उपायुक्त ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के तहत 2000 लाभुकों के गलत डाटा को ठीक करने तथा शेष बचे लाभुकों के डाटा संबंधित त्रुटियों को दुर करते हुए एक सप्ताह के अन्दर पेंशन की स्वीकृती किए जाने की जानकारी दी.

और भरोसा दिया कि हर माह जनता दरबार के अलावा मिडिया मिलन संवाद आयोजित भी होगा, एवं जन-जन की समस्या पर संवाद के साथ निदान भी होगा.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

2 thoughts on “अब तक पूछती थी मीडिया, अब पूछेंगे पलामू उपायुक्त !

  1. Excellent beat ! I would like to apprentice while you amend
    your site, how can i subscribe for a blog site?
    The account helped me a appropriate deal. I had been a little bit familiar
    of this your broadcast provided shiny transparent idea

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *