image not available IRB ने खोया एक संचालक... भरते थे हौसला। | Capital News Palamu

IRB ने खोया एक संचालक... भरते थे हौसला।

मेदिनीनगर:- संगठन में व्यक्ति विशेष की महत्ता भले ना हो, मगर भूमिका अहम होती है। जिसका खामियाजा इंडियन रोटी बैंक की पलामू इकाई को हुआ है जिन्होंने अभिभावक के रूप में डॉ विजय शंकर ओझा को खो दिया है। मधूरभाषी, व्यवहार कुशल, परिपक्व वक्ता रेड़मा निवासी डॉ विजय शंकर ओझा के निधन पर इंडियन रोटी बैंक के स्टेट कॉर्डिनेटर दीपक तिवारी ने गहरा दुख व्यक्त किया है। एवं परिवार वालों को दुख में साथ रहने का भरोसा दिया है। आईआरबी फेम दीपक तिवारी ने बताया कि डॉ ओझा के निधन से इंडियन रोटी बैंक परिवार को अपूर्णीय क्षति हुई है। हरेक कार्यक्रम को संचालित करने की जवाबदेही जहां डॉ ओझा स्वयं से निभाते भी थे, और समाज में सेवादार की भूमिका निभाने वाले युवाओं को हौसला भी बढ़ाते थे। दीपक तिवारी की माने तो जरूरत पड़ने डॉ विजय शंकर ओझा खुद से वोलेंटियर का काम करने से भी नहीं कतराते थे... प्रखर वक्ता के रूप में हर किसी में उर्जा भरने का काम करते थे, तभी तो सबके चहेते थे। उनके निधन से पलामू ने एक मजबूत समाजिक कार्यकर्ता खो दिया है जिसकी भारपाई संभल नहीं है।