पलामू में राजनितिक भूचाल , चक्रव्यूह में फसा अभिमन्यु

पलामू

राजनीतिक उफान सुबे की राजनीतिक राजधानी में आनी तय है, जिसे पलामू पुलिस की एक कारवाई ने हवा दी है। आर्म्स एक्ट के तहत लाइसेंस से ज्यादा हथियार रखने और शस्त्रों से भय की स्थति पैदा करने के आरोप में झारखंड नवनिर्माण मोर्चा सुप्रीमो अभिमन्यू सिंह और उनके दाहिने हाथ कहें या मिडिया प्रभारी राहूल कुमार दूबे समेत पांच और लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। जिनपर रेहला, नावा बाजार, एवं पांडू थाना ने मिलकर कारवाई की है। जिनपर 30 A के अलावे 25 A 1 की धारा भी लगाई गयी है, जिसके तहत प्रतिबंधित हथियार रखने का मामला सामने आ सकता है। दरअसल स्वास्थय मंत्री सहविश्रामपुर विधायक रामचंद्र चंद्रवंशी के घूर विरोधी झानमो के केंद्रीय अध्यक्ष अभिमन्यू सिंह कीगिरफ्तारी को राजनीतिक षड्यंत्र के तौर पर देखा जा रहा है, जिसे लेकर सोशल मिडिया पर तंज कसा जाना शुरू हो गया है। रेहला पुलिस ने रेहला निवासी रंजीत सिंह की बेटी की शादी से लौटते वक्त मध्यरात्रि में उनके ही घर से निकलने के बाद थाना में ले जाकर जांच की प्रक्रिया शुरू की गई है.।

जहां समारोह में भाजपा विधायक सह स्वास्थय मंत्री चंद्रवंशी भी शामिल हुए थे, जिनके जाने के उपरांत ये कारवाई की गई है। जिससे राजनीतिक भूचाल मचना तय है। क्योंकि भाजपा सरकार में विपक्षीयों पर लगाम लगाने के लिए हथकंडे अपनाने का आरोप लगता आया है। मगर पलामू पुलिस की कारवाई में हथियार रखने का आरोप लगा है। जो अवैध है या प्रतिबंधित धीरे-धीरे सब सामने आ जाएगा। मगर तत्काल तो विधानसभा प्रत्याशी अंजू सिंह के पति सह समाजसेवी अभिमन्यू सिंह को जेल जाना तय माना जा रहा है। साथ ही और अंगरक्षक, चालक, कार्यकर्ताओं में कौन साथ जाता है छूटता है इंतजार करना पड़ेगा। ऐसे में गिरफ्तारी में हथियार की वजह बनना पलामू में हथियार लेकर घूमना शान समझने वालों पर पुलिस की विधि का शासन स्थापित किया जाना भी समझा जा रहा है। देखना है इसका असर वाकई में विधि का शासन है या फिर कुछ और निगाह रहेगी।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *