दुष्कर्म की घटना में फंसाना राजनीतिक साजिश: बबलू सिंह

पलामू

 

पांकी के पूर्व विधायक विदेश सिंह के बेटे सह कांग्रेस विधायक बिट्टू सिंह के भाई बबलू सिंह ने दुष्कर्म की घटना में गिरफ्तारी को राजनीतिक साजिश बताया है. बबलू सिंह ने कहा कि वे राजनीति का शिकार हुए हैं. जिस दिन की घटना है उस दिन वह गढ़वा में थे और उनका मोबाइल लोकेशन गढ़वा में ही था.

बता दें कि बबलू सिंह ने मामले में प्रेस विज्ञप्ति जारी कर लिखा है कि महिला द्वारा उन  पर दुष्कर्म का आरोप लगाया जा रहा है. उस महिला का निकाह मनातू थाना क्षेत्र में थाने में प्रशासन के समक्ष मुस्लिम रीति रिवाज के साथ हुआ था. जिसमें युवक ने सभी के समक्ष राजी खुशी से निकाहनामा कुबूल किया.

‘शादी समारोह के दावत में गया था’

शादी समारोह के बाद लड़की के परिजनों ने घर पर दावत का इंतजाम किया था. शादी के दो दिन बाद महिला ने बताया कि भाभी को उकसाने पर युवक को फंसाने का कार्य किया गया था. शादी समारोह के बाद उसी दावत में मैं भी लोगों के बुलावे पर शामिल हुआ था. इसके बाद दो दिन बाद आरोपी महिला के पति ने बताया कि महिला मेरे साथ रहने को तैयार नहीं है.

‘मुझे फंसाया गया’

आगे कहा गया कि निकाह थाना में प्रशासन के समक्ष हुआ है तो इस बात को थाना में रखिए और मैं अपने घर वापस आ गया. इसके बाद जानकारी मिली की महिला के परिजनों ने थाना जाकर जेएमएम नेता के यहां चले गए और उसके बाद राजनीति से ओतप्रोत होकर- उल्टा-सीधा महिला को पढ़ाकर मुझे फंसा दिया गया.

महिला का पति जेल में है

जिस दिन की यह घटना है उस दिन वे अपने बहन के यहां गढ़वा मझिआंव में था जिसका मोबाइल लोकेशन भी प्रशासन द्वारा किया गया. जिसमें मोबाइल लोकेशन गढ़वा बताया गया जो प्रशासन के जांचोपरांत निराधार पाया गया. मामले में महिला का पति जेल में है. वहीं उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में महिला का नाम लिया, जबकि इस तरह के मामलों में सुप्रीम कोर्ट ने सख्त निर्देश दिया है कि दुष्कर्म पीड़िता का नाम सार्वजनित तौर पर नहीं लिया जाना चाहिए.

 

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *