मैट्रिक व इंटर की परीक्षा में खुलेआम हो रहा कदाचार

पांकी : प्रखंड के कुल 5 परीक्षा केंद्रों में संचालित मैट्रिक व इंटर की परीक्षा में परीक्षार्थियों को खुलेआम नकल करते हुए देखा जा रहा है. परीक्षार्थी गेस पेपर गाइड के सहारे खुलेआम परीक्षा लिख रहे हैं.

मैट्रिक व इंटर की परीक्षा में खुलेआम हो रहा कदाचार
मैट्रिक व इंटर की परीक्षा में खुलेआम हो रहा कदाचार
मैट्रिक व इंटर की परीक्षा में खुलेआम हो रहा कदाचार
मैट्रिक व इंटर की परीक्षा में खुलेआम हो रहा कदाचार






पांकी : प्रखंड के कुल 5 परीक्षा केंद्रों में संचालित मैट्रिक व इंटर की परीक्षा में परीक्षार्थियों को खुलेआम नकल करते हुए देखा जा रहा है. परीक्षार्थी गेस पेपर गाइड के सहारे खुलेआम परीक्षा लिख रहे हैं. यही नहीं कमरे में लगे सीसीटीवी कैमरे भी शोपीस बने हुए हैं. वीक्षक व  केन्द्राधिक्षक की उपस्थिति में  परीक्षा कदाचारयुक्त हो रही है. व्यवस्था के घोर अभाव के कारण सैकड़ों परीक्षार्थी खुले मैदान में बिना सीसीटीवी कैमरे की निगरानी व एक बेंच पर चार से पांच परीक्षार्थी बैठ परीक्षा दे रहे हैं. जिससे सरकार के द्वारा कदाचार मुक्त परीक्षा लेने की बातें खोखली साबित हो रही है.

प्रखंड के प्रोजेक्ट हरिवंश नारायण बालिका उच्च विद्यालय, कन्या मध्य विद्यालय, मजदूर किसान इंटर महाविद्यालय ,राजकीयकृत प्लस टू उच्च विद्यालय व बुनियादी मध्य विद्यालय को मैट्रिक व इंटर का परीक्षा केंद्र बनाया गया है. जहां बुधवार को 5 परीक्षा केंद्रों में आयोजित मैट्रिक की उर्दू विषय की परीक्षा में सैकड़ों परीक्षार्थी शामिल हुए जहां कन्या मध्य विद्यालय परीक्षा केंद्र में सीसीटीवी कैमरा शोपीस की तरह लटका रहा और परीक्षार्थियों को नकल करते एवं गेस पेपर से मदद लेते हुए पाया गया. वहीं दूसरी पाली में आयोजित इंटरमीडिएट की परीक्षा में हजारों छात्र-छात्राएं शामिल हुए जहां व्यवस्था के घोर अभाव के कारण सैकड़ों परीक्षार्थियों को खुले मैदान में लगे टेंट एवं बरामदे में बिना सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में बैठकर परीक्षा देते हुए पाया गया यही नहीं व्यवस्था के घोर अभाव के कारण एक बेंच पर 5 परीक्षार्थियों को भी परीक्षा देते हुए पाया गया.

मौके पर मौजूद केंद्रअधीक्षक शैलेश कुमार सिंह ने बताया कि व्यवस्था के अभाव के कारण पुराने भवन बरामदे एवं टेंट में परीक्षार्थियों को बैठाकर परीक्षा लिया जा रहा है.