अब छत्तीसगढ़, यूपी और बिहार जाना होगा आसान, गढ़वा में बाईपास निर्माण को मिली स्वीकृती

गढ़वा

गढ़वा : जिले में ट्राफिक जाम, सड़क दुर्घटना, वायु प्रदूषण और ध्वनि प्रदूषण से परेशान लोगों को जल्द निजात मिल जाएगी. शहर में बाईपास निर्माण में आने वाली सबसे बड़ी बाधा भूमि अधिग्रहण और मापी का काम पूरा कर लिया गया है. अंचल प्रशासन ने इसकी रिपोर्ट भूअर्जन विभाग को सौंप दी है और अब जल्दी ही निर्माम कार्य शुरू किया जा सकता है.

गढ़वा से छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश और बिहार की सीमा जुड़ी हुई है. इन राज्यों के लिए गढ़वा से होकर जाने वाली सड़क को सुगम माना जाता है. लेकिन इन सड़कों के कारण शहर में ट्रैफिक की समस्या तो रहती ही है साथ ही आए दिन सड़क हादसे भी होते रहते हैं. यही वजह है कि बाईपास निर्माण के लिए कई आंदोलन किए गए.

सांसद बीडी राम का प्रयास हुआ कारगर

पलामू के सांसद बीडी राम ने बाइपास रोड के निर्माण के लिए कारगर प्रयास किया था. और लंबी कोशिश के बाद उन्होंने एनएच 75 की बाईपास निर्माण के लिए सरकार से स्वीकृति दिला दी. उन्होंने सर्वेयर के साथ उन सभी गांवों का दौरा किया, जहां से होकर एनएच गुजरती है.

अंचल कार्यालय ने पूरी की 16 गांवों में मापी

सीओ बैजनाथ कामती ने बताया कि सभी गांवों में सड़क निर्माण के लिए जमीन की मापी कर ली गई है. भूस्वामियों को नोटिस देकर भूमि अधिग्रहण करने की जानकारी भी दे दी गई है. इसमें लोगों की आपत्तियों का निपटारा भी कर लिया गया है. इन तमाम कार्यो का थ्री डी तैयार कर भूअर्जन विभाग और सरकार को भेज दिया गया है. नियम के अनुसार 10 प्रतिशत मुआवजा देकर भी काम शुरू किया जा सकता है.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *