पलामू : मोमेंटम झारखंड, स्किल इण्डिया के तर्ज पर को-ऑपरेटिव करेगा पलामू में रोजगार सृजन : अविनाश देव

पलामू

पलामू : माटी कला बोर्ड गठन के बाद रोजगार के दिशा में आगे बढ़ने के लिए पलामू उपायुक्त के सुझाव एवं सहयोग से मृदा-पलाश स्वावलंबी सहकारी समिति का गठन किया गया है. नौजवानों के रोजगार, गृहिणी महिलाओं के खाली समय का सदुपयोग कर आत्मनिर्भर बनाया जाए. तीस-चालीस हजार रुपये प्रति माह आय के लायक बनाना है. प्रथम फेज में माटी के बर्तन बनाने के लिए मेडिकल कॉलेज के बगल में फैक्ट्री स्थापित किया जा रहा है, जहां ज्ञानी पंडित द्वारा ढ़ाई एकड़ भूमि उपलब्ध कराया गया है.

कारीगर को विशेष प्रशिक्षण के लिए रांची बुण्डू भेजा गया है. यहां से माटी के आकर्षक बोतल, कुकर, तवा, फ्रिज, मटका, कप, ग्लास एवं क्रॉकरी का अन्य सामान उत्पादित किया जायेगा. यह उत्पादन स्वाद व स्वास्थ्य से भरपूर रहेगा. यहां हजारों युवा श्रमिक कार्य करेंगे. पलामू से पलायन रूकेगा,  माटी शिल्पकारों का सपना साकार होगा. प्लास्टिक मुक्त, मिट्टी युक्त प्रदेश बनाने की प्रक्रिया में सार्वजनिक उपयोग होने वाले चाय के लिये कुल्हड़, पानी का बोतल बड़े पैमाने पर आपूर्ति किया जायेगा.

हुनर के हिसाब से अन्य कार्य क्रियेट किया जायेगा, जिसमें अगरबत्ती, मोमबत्ती, मसाला का पैकेजिंग, सर्फ, साबुन, दालमोट, डेयरी, मिठाई, रेडि‍मेड गार्मेंट्स, सिलाई, कढ़ाई एवं अन्य कुटीर उद्योग का काम किया जाएगा. जिसमें असीम सम्भावना के साथ रोजगार मिलेगा.

उपरोक्त कार्य के लिए पलामू उपायुक्त डॉ. शान्तनु कुमार अग्रहरि ने मेदिनीनगर नगर निगम के ब्रांड एम्बेस्डर एवं झारखंड माटी कला बोर्ड के मेंबर अविनाश देव, झारखंड सरकार को को-ऑपरेटिव का प्रमाण पत्र सौंपे गये. 40 से 50 हजार रुपए प्रति माह कमाने लायक पांच हजार युवाओं-युवतियों को जोड़ने को कहा. अविनाश देव ने पूरी जिम्मेदारी के साथ इस कार्य को बखूबी निभाने का भरोसा दिलाया. शिक्षा, चिकित्सा एवं वित्तीय रुप से पलामू समृद्ध हो इसके लिए हम खून-पसीना एक कर देंगे.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *