पलामू में चंद्रग्रहण

पलामू

देखने को मिला चांद का कई चमक

कैपिटल न्यूज टीम ने कैद की खगोलीय गतिविधि

पलामू : जनवरी 31 यानी आज पूरे विश्व के साथ भारत भी एक अद्भुत खगोलीय घटना का साक्षी बना। इस घटना में सुपरमून और ब्लू मून के साथ खग्रास चंद्र ग्रहण भी देखा गया। जिस ग्रहण में चंद्रमा पूरी तरह से पृथ्वी की परछाई से ढक जाता है उसे खग्रास चंद्र ग्रहण कहा जाता है। नासा ने इस अद्भुत खगोलीय ट्रिपल ट्रिफेक्टा घटना को सुपर ब्लू ब्लड मून की संज्ञा दी है। इस बार भारत में चंद्र ग्रहण को सबसे बेहतरीन रूप में नैनीताल की पहाड़ियों से देखा जा रहा है वहीं पलामू के नेतरहाट में भी इस खगोलीय गतिविधि का नजारा देखने को मिल रहा है।

चंद्र ग्रहण के समय चंद्रमा अपनी धुरी पर रहते हुए पृथ्वी के सबसे करीब होता है। 2018 के पहले चंद्र ग्रहण में चंद्रमा सामान्य रुप से 14 प्रतिशत बड़ा और 30 प्रतिशत ज्यादा चमकदार दिखाई दिया। स्काई एंड टेलीस्कोप मैग्जीन के सीनियर एडिटर केली बेटी ने इसे एक एस्ट्रोनॉमिकल ट्रिफेक्टा का नाम दिया है।

हालांकि पूर्व की भांति ग्रहण को लेकर पलामू जिला मुख्यालय में ज्यादा चिंतित नहीं हैं पर दिनचर्या में जरूर शिथिलता आई है। आमतौर पर व्यस्ततम सड़कें सुनसान दिखाई पड़ भी रही हैं… और इस ठंड में लोग स्नान-ध्यान, पुण्य-पाठ की तैयारी में भी जुटे हुए हैं।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *