दिल्ली : जैश का आतंकी दिल्ली से गिरफ्तार, पूछताछ में खुल सकते हैं कई राज

देश ब्रेकिंग न्यूज़

दिल्ली : बताया जा रहा है कि कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले से पहले ही सज्जाद भागकर दिल्ली आ गया था. लेकिन वो हमले के मास्टर माइंड मुदस्सिर के सम्पर्क में था.

जम्मू कश्मीर का रहने वाला है आरोपी
जानकारी के मुताबिक सज्जाद खान जम्मू कश्मीर का ही रहने वाला है. उसे पुलवामा में सीआरपीएफ की बस पर हमले की साजिश की पूरी जानकारी थी. सज्जाद लगातार पुलावामा हमले के मास्टरमाइंड मुदस्सिर के संपर्क में था. जो हाल ही में एक एनकाउंटर के दौरान मारा गया.

स्लीपर सेल को कर रहा था एक्टिव
सीआरपीएफ जवानों पर पुलवामा में हमला करने के मामले में मुख्य साजिशकर्ता रहे मुद्दसिर खान के करीबी जैश आतंकी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया है. आरोपी सज्जाद इस हमले के बाद से दिल्ली में छिपा हुआ था. वह यहां जैश के लिए स्लीपर सेल को खड़ा कर रहा था ताकि भविष्य में राजधानी में आतंकी हमले को अंजाम दिया जा सके.

हमले की साजिश!
स्पेशल के डीसीपी प्रमोद कुशवाहा ने बताया की स्पेशल सेल की टीम आतंकियों को ध्यान में रखते हुए छानबीन कर रही थी. इस दौरान उन्हें सूचना मिली कि जैश-ए-मोहम्मद का आतंकी सज्जाद खान लाल किला के समीप लाजपत राय मार्केट में किसी से मिलने आएगा.

इस जानकारी पर स्पेशल सेल की टीम ने गुरुवार रात छापा मारकर 27 वर्षीय सज्जाद खान को गिरफ्तार कर लिया. एनआईए ने उसके खिलाफ मामला दर्ज कर रखा था जिसमें उसकी तलाश चल रही थी.

पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड का है करीबी
पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह मुद्दसिर खान का साथी है जो पुलवामा हमले का मुख्य साजिशकर्ता था. कुछ ही समय पहले जम्मू कश्मीर में मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों ने मुद्दसिर खान को मार गिराया था. पुलिस पुलवामा हमले में उसकी भूमिका को लेकर छानबीन कर रही है. आरोपी पुलवामा का रहने वाला है.

दिल्ली में आतंकी भर्ती करने की थी जिम्मेदारी
सज्जाद खान ने पुलिस को बताया मुद्दसिर ने उसे दिल्ली में स्लीपर सेल खड़ा करने की जिम्मेदारी सौंपी थी. दिल्ली में रहकर वह जैश के लिए आतंकियों की भर्ती कर रहा था. उसे मुद्दसिर ने यहां आतंकी भर्ती करने के लिए कहा था जो भविष्य में दिल्ली को दहलाने का काम कर सके. पुलिस पूछताछ कर यह जानने का प्रयास कर रही है कि दिल्ली को लेकर क्या साजिश जैश ने रची है.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *