पलामू : पर्यावरणविद् कौशल किशोर सद्भावना पुरस्कार से किये गए सम्मानित

पलामू

पलामू : मेदिनीनगर के हमीदगंज में ग्रामीण समाज कल्याण विकास मंच की ओर से आयोजित कार्यक्रम में विश्वव्यापी पर्यावरण संरक्षण अभियान के केंद्रीय अध्यक्ष एवं पर्यावरण धर्म व वनराखी मूवमेंट के प्रणेता पर्यावरणविद् कौशल किशोर जायसवाल को मो. नईमुद्दीन अंसारी सद्भावना पुरस्कार से सम्मानित किया गया. कार्यक्रम के मुख्यातिथि झारखंड विधानसभा के प्रथम स्पीकर इंदर सिंह नामधारी ने कौशल किशोर जायसवाल को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया.

इससे पहले भी जायसवाल को राज्यपाल, मुख्यमंत्री, विधानसभा अध्यक्ष और पीसीसीएफ समेत कई लोगों के हाथों से सम्मानित होने का गौरव प्राप्त हुआ है. कौशल किशोर जायसवाल की जीवनी पर आधारित सीबीएससी बोर्ड के आठवीं और आईसीएसई बोर्ड के छठवीं कक्षा में पिछले 10 वर्षों से पढ़ाई जा रही है. कार्यक्रम में मुख्य वक्ताओं ने उनकी जीवन वृत की चर्चा करते हुए कहा कि जायसवाल उस समय से पर्यावरण के क्षेत्र में कार्य कर रहे हैं जब गांव के किसान अपनी खेतों में पेड़ लगाने से मना करते थे. क्योंकि उन्हें भय था कि पेड़ लगाने से उनकी खेतों को सरकार अपने कब्जे में कर लेगी.

इन सबके बावजूद भी कौशल किशोर जायसवाल हार नहीं मानते हुए अपने कार्यक्रमों को जारी रखा. आज नेपाल से लेकर देश के कई राज्यों में पौधरोपण कर पर्यावरण के क्षेत्र में मिसाल ही नहीं कृतिमान स्थापित कर दिया है. जिसके लिए उन्हें कई पुरस्कारों से भी नवाजा गया.  जायसवाल ने अपने सम्बोधन में कहा कि कोई भी व्यक्ति अगर सच्ची लगन, कड़ी मेहनत और दूरदृष्टि रखकर समाज के लिए निःस्वार्थ कार्य करता है तो निश्चित ही उसे मुक्कमल मुकाम मिलता है. मौके पर प्रो. सुभाष मिश्र, हृदयानंद मिश्रा, संस्था प्रमुख पंकज श्रीवास्तव, एडवोकेट नीलू मिश्रा, शांति किंडों, सचिव हसरत रब्बानी, डॉ. सीमा समेत कई लोग उपस्थित थे.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *