एक्सपायरी होने से पूर्व ही फेंक दी गई लाखों रुपये की सरकारी दवा

गढ़वा

प्रखंड के तेनार-दुमरो सड़क के किनारे झाड़ी में एक्सपायरी होने से पूर्व ही लाखों की सरकारी दवा फेंक दी गई है. हालांकि गढ़वा के सीएस के अनुसार फेंकी गई दवा गढ़वा जिले की नहीं है. उन्होंने कहा कि ये दवा कहीं और से लाकर यहां फेंक दी गई हैं.

बता दें कि दवा का महत्व तब समझ में आता जब कोई बीमार होता है, या दुर्घटनाग्रस्त. लेकिन दवा के काले धंधे में लिप्त लोग इसकी परवाह नहीं करते. जब उनकी गर्दन कानून के शिकंजे में फंसने लगती है तो वे दवा फेंककर अपनी जान बचा लेते हैं. फेंकी गई कोई भी दवा एक्सपायर्ड नहीं है. दवा किसने और कब यहां लाकर फेंकी इसकी जानकारी वहां के ग्रामीणों को भी नहीं है.

सिविल सर्जन ने बताया साजिश

सिविल सर्जन डॉ एनके रजक ने बताया कि जो दवा फेंकी गई है वो गढ़वा जिले का नहीं है. क्योंकि गढ़वा के सरकारी अस्पतालों में उक्त कंपनी की दवा की आपूर्ति होती ही नहीं है. किसी ने साजिश के तहत यहां दवा फेंकवाई है, ताकि गढ़वा की बदनामी हो. उन्होंने यह भी कहा कि दवाइयों की बैच नंबर से पता लगाया जा सकता है कि किस केंद्र को उक्त दवाइयां भेजी गई थी.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

4 thoughts on “एक्सपायरी होने से पूर्व ही फेंक दी गई लाखों रुपये की सरकारी दवा

  1. Thank you for the auspicious writeup. It in truth used to
    be a leisure account it. Glance complex to far added agreeable from you!
    By the way, how could we be in contact?

  2. Hi there! This post could not be written any better!
    Reading this post reminds me of my previous room mate! He always kept chatting about this.
    I will forward this write-up to him. Pretty sure he will
    have a good read. Thanks for sharing!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *