आज से पूरे भारत में 21 दिनों तक लॉकडाउन

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को रात 8 बजे से देश को संबोधित कर रहे हैं. कोरोना को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज रात 12 बजे से संपूर्ण भारत को लॉक डाउन किया जा रहा है. यह लॉक डाउन पूरे 21 दिन तक लागू रहेगा. कोई भी व्यक्ति अपने गर से नहीं निकलेगा. पीएम मोदी ने लोगों से अपील की कि लोग अपने और अपने परिवार के लिए अपने घरों में रहे. घरों से बाहर न निकलें. 

आज से पूरे भारत में 21 दिनों तक  लॉकडाउन






नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को रात 8 बजे से देश को संबोधित कर रहे हैं. कोरोना को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज रात 12 बजे से संपूर्ण भारत को लॉक डाउन किया जा रहा है. यह लॉक डाउन पूरे 21 दिन तक लागू रहेगा. कोई भी व्यक्ति अपने गर से नहीं निकलेगा. पीएम मोदी ने लोगों से अपील की कि लोग अपने और अपने परिवार के लिए अपने घरों में रहे. घरों से बाहर न निकलें. 

यह एक तरह से कर्फ्यू ही है

पीएम मोदी ने कहा कि अगर लापरवाही जारी रही तो भारत को इसकी बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है. यह कीमत कितनी चुकानी पड़ेगी, अंदाजा लगाना मुश्किल है. देश में दो दिनों से कई भागों में लॉकडाउन कर दिया गया है. राज्य सरकार के इन प्रयासों को गंभीरता से लेना चाहिए. हेल्थ सेक्टर के अनुभवों को ध्यान में रखते हुए देश महत्वपूर्ण निर्णय करने जा रहा है. आज रात 12 बजे से पूरे देश में पूरा लॉकडाउन होने जा रहा है. हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हर नागरिक को बचाने के लिए, आपके परिवार और आपको बचाने के लिए आज रात 12 बजे से घरों से बाहर निकलने पर पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है. राज्य, केंद्र शासित प्रदेश, हर जिला, गांव, कस्बा, गली-मोहल्ला लॉकडाउन किया जा रहा है. यह एक तरह से कर्फ्यू ही है. जनता कर्फ्यू से जरा ज्यादा सख्त है. कोरोना महामारी के खिलाफ निर्णायक लड़ाई के लिए यह कदम बहुत आवश्यक है. 

21 दिन नहीं संभले तो देश और परिवार 21 साल पीछे चला जायेगा

पीएम मोदी ने कहा के निश्चित तौर पर लॉकडाउन की आर्थिक कीमत देश को उठानी पड़ेगी. लेकिन, एक-एक भारतीय के जीवन, आपके परिवार को बचाना इस समय मेरी, भारत सरकार की, राज्य सरकार की सबसे बड़ी प्राथमिकता है. इसलिए मेरी आपसे प्रार्थना है. हाथ जोड़कर प्रार्थना करता हूं कि आप इस समय देश में जहां भी हैं, वहीं रहें. अभी के हालात को देखते हुए देश में लॉकडाउन 21 दिन का होगा. तीन सप्ताह का. पिछली बार बात की थी, तब मैंने कहा था कि मैं आपसे कुछ सप्ताह मांगने आया हूं. आने वाले 21 दिन हर नागरिक, हर परिवार के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं. कोरोनावायरस का संक्रमण चक्र तोड़ने के लिए 21 दिन का समय बहुत अहम है. अगर 21 दिन नहीं संभले तो देश और आपका परिवार 21 साल पीछे चला जाएगा. कई परिवार हमेशा के लिए तबाह हो जाएंगे. यह बात एक प्रधानमंत्री के तौर पर नहीं, आपके परिवार के सदस्य के नाते कह रहा हूं. बाहर निकलना क्या होता है, यह 21 दिन के लिए भूल जाइए. घर में रहें और यही काम करें.