इंजीनियर की पत्नी ने दौलत की चाह में प्रेमी के हाथों पति को ही मरवा दिया

लातेहार

 

किस पर करें विश्वास,इस दुनिया में टुटेगा तब यकीं।
दौलत के इश्क़ में जब मुहब्बत निगलेगा ज़िन्दगी।।

पुलिस के साथ खड़े ये 2 जवान कोई इनाम के हकदार नही, ये वो हैवान है जिन्होंने दौलत , शौहरत , एवं औरत के लिये एक इंजीनियर की बेरहमी से हत्या कर दी, दिखने में 1 तो हत्यारा लगता ही है, पर एक मासूम है जिसकी मासूमियत के पीछे वो जानवर छुपा है, जिसके कुकृत्य को 1 माह पहले चँदवा पुलिस समेत अमझरिया घाटी के पास लोगों ने देखा था, जहाँ सीसीएल में चीफ इंजीनियर जैसे बड़े ओहदे पर बैठे शक्श की उसकी पत्नी के साथ ही मिलकर निर्मम हत्या करने की जघन्य अपराध किया, जो आज हैं तो कानून की जकड में लेकिन इनके चेहरे पर अपराध के बोध का शिकन भी नही है…

दरअसल ये हत्यारे तो बाद में कानून के फंदे में फंसे पर इससे पहले चारदीवारी में कोड हो चुकी है वो औरत जिसके प्यार में पड़कर दौलत की चाह में किसी की हत्या करने का जुर्म किया, दया ,ममता,त्याग, प्रेम की प्रतिमूर्ति माने जाने वाली औरत के नाम पर कलंक गुंजा सिन्हा ने अपने प्रेमी अभय और उसके सहयोगी राहुल के साथ मिलकर अपने पति को धोखे से मारने का कुकर्म किया। जिसकी इजाजत ना तो कानून देता है और ना ही इसके लिए कभी समाज माफ कर सकता है, यही दो हत्यारे हैं जिन्होंने गुंजा सिन्हा के चाहत में पड़कर सिंगरौली में तैनात इंजीनियर को जान से मार उसके ही वैगनआर में शव को छोड़ फरार हो गए थे…ये सोचकर कि कुकृत्य दुनिया को पता नही चलेगा, और वो इंजीनयर के जगह पर नौकरी और उसके दौलत एवं इन्सुरेंश के नाम पर मिलने वाले रुपये लेकर गुंजा सिंह के साथ रंगरलियां मनायेंगे, पर उन्हें क्या पता था कि उनके इन अरमानों पर कानून का राज स्थापित करने वाला लातेहार पुलिस पानी फेर देगा.. लातेहार पुलिस कप्तान प्रशांत आनंद के निर्देश पर एसडीपीओ अनुज उरांव के नेतृत्व में गठित टीम ने शातिर प्रेमी प्रेमिका के अपराध का पर्दाफाश कर उन्हें सलाखों के पीछे पहुँचा दिया | दरअसल मृतक इंजीनियर और उसकी  पत्नी गुंजा सिन्हा के बीच शादी के बाद से ही तकरार शुरू हो गया था ,इसकी वजह कहीं न कहीं अभय के प्रति उसके सर पर चढ़ा प्यार का बुखार था, बढ़ते पारिवारिक विवाद और परवान चढ़ते प्यार का परिणाम अभय और गूंजा को हत्यारा बना दिया जिसमें उन्हें इंजीनियर की मौत के बाद नौकरी ,सम्पति,  रुपये ने अंधा कर दिया । जिसके बाद राहुल का शयपग लेकर प्रेमिका के इशारे पर अभय ने हत्या की घटना को अंजाम दिया| चंदवा एसडीपीओ अनुज उरांव की बातें जहाँ कानून की जरूरत को दर्शा रही है, इस घटना के पर्दाफाश में इश्क़ के बीमार लोगों के चेहरे भी उजागर कर रही है। दरअसल प्रेम तो करते नही बस इन्हें तो अपने कुकृत्यों का एक बहाना चाहिए होता है, जिनके सिने मे दिल नहीं एक दरिंदा बसता है……

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *