शिक्षायुक्त और दहेजमुक्त समाज का निर्माण होगा – डॉ ईश्वर सागर चंद्रवंशी

पलामू

पलामू : शिक्षायुक्त एवं दहेजमुक्त समाज का निर्माण ही उत्थान की कुंजी है. समृद्ध समाज निर्माण के लिए परंपरा को जिंदा रखने का संकल्प चंद्रवंशी समाज ने लिया और शपथ दुहराया कि लड़का एवं लड़की में भेदभाव किए बिना उन्हें शिक्षित एवं स्वावलंबी बनाऐंगे. एकजुटता के साथ मानवीय मुल्यों को स्थापित करने का अवसर था अपने पूर्वज मगध सम्राट जरासंध की जयंती के उपलक्ष्य पर. अखिल भारतीय चंद्रवंशी क्षत्रिय महासभा के बैनर तले पलामू के पांडू में राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ ईश्वर सागर चंद्रवंशी की मौजूदगी में जरासंध जयंती धूमधाम से मनाया गया. जहां प्रखंड के गांव-गांव से पहुंच चंद्रवंशी समाज के हजारों महिला-पुरूष अपने मानिंद पूर्वज जरासंध की पूजा अर्चना हवन में शामिल हुए वहीं भव्य शोभायात्रा निकाल जरासंध के मान-सम्मान को प्रतिष्ठित किया.

मौके पर मुख्य अतिथि भाजपा नेता सह पलामू में दूसरे विश्वविद्यालय के कर्ताधर्ता डॉ ईश्वर सागर चंद्रवंशी ने ऐलान किया कि उनके घर में ही उच्च शिक्षा कम खर्च में व्यवस्थित तौर पर संचालित है, जिसका स्थानीय लोगों को और समाज के लोगों को लाभ उठाना चाहिए और अपने बच्चों को शिक्षित करना चाहिए. आर सी आई टी संस्थान का उद्देश्य है हर घर में शिक्षा का दीप जलाना, जिसके प्रकाश से स्वतः परिवारिक, सामाजिक विसंगतियां, कुरीतियां, अंधविश्वास रूपी अंधेरा जड़ मूल से नष्ट हो जाए. साथ ही डॉ ईश्वर ने एकता का आह्वान करते हुए समाज में व्याप्त नशाखोरी को भी दूर करने का अपील किया. उनकी माने तो हमें अपने पूरोधा का मान-सम्मान बढ़ाने के लिए आयोजित समारोह तभी सार्थक माना जाएगा जब नशा का विरोध कर इससे समाज मुक्त होगा तभी जाकर हमारा परिवार मजबूत एवं समृद्ध होगा. साथ ही जरासंध जयंती पर आह्वान किया कि आदर्श रूप प्रस्तुत करें जो बाकी लोगों के लिए प्रेरणादायी हो.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *