पलामू : बिजली को लेकर हा‍हाकार, लचर व्‍यवस्‍था से नाराज ग्रामीण आंदोलन के मुड में

पलामू ब्रेकिंग न्यूज़

पलामू : पलामू में लोकसभा चुनाव खत्‍म होते ही ग्रामीणों की नाराजगी सड़कों पर दिखाई देने लगी. दरअसल नाराजगी इस बात की है कि चुनाव में 3 दिन बिजली की समुचित व्यवस्था रही. पूरे दिन बिजली मिली, मगर 29 अप्रैल को चुनाव खत्म होते ही हालात पुराने जैसी हो गई.

दरअसल मामला चैनपुर प्रखंड के बंदुआ गांव की है, जहां के ग्रामीण पिछले एक दशक से बिजली की लचर व्यवस्था से जूझ रहे हैं. 24 घंटे में महज एकाद घंटे ही बिजली मिलती है या फिर दो-तीन दिन बिजली गायब रहती है. बार-बंदुआ गांव के ग्रामीण हटिया ग्रिड से जोड़ने की मांग कर रहे हैं, बावजूद आज तक उन्हें हटिया ग्रिड से नहीं जोड़ा गया. जिस कारण गांव में बिजली की समस्‍या से लोग परेशान हैं. तार और पोल गांव के कोने कोने तक पहुंचाया गया है, मगर बिजली एकाद घंटे ही आती है. बिजली की लचर व्‍यवस्‍था से ग्रामीण आंदोलन के मुड में हैं.

मालूम हो कि पांच साल पूर्व पलामू को हटिया ग्रिड से जोड़ा गया है, मगर पलामू के मुख्यालय मेदिनीनगर से महज 6 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बंदुआ गांव में अभी तक बिजली यूपी से मिलती है. यही कारण है कि  पिछले एक दशक से लचर बिजली व्यवस्था के कारण बच्‍चों की पढ़ाई से लेकर खेती भी प्रभावित हो रही है. ग्रामीणों का कहना कि बार-बार विभाग के अधिकारियों का चक्कर लगाते हैं, बावजूद हालात नहीं सुधर रही.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *