पलामू : 20 दिनों से लापता है NGO का संचालक, लेकिन खाता से हो रही है पैसे की निकासी

पलामू

पलामूः जिले में भारतीय विकास समिति के नाम से NGO चलाने वाले नागमणि लोहरा उर्फ नागेंद्र विश्वकर्मा 20 दिनों से लापता हैं. उनका कोई सुराग नहीं मिल पा रहा है. नागेंद्र गायब है, बावजूद उसके खाता से 1.80 लाख रुपये की निकासी हुई है.

नागेंद्र विश्वकर्मा पिछले कई वर्षों से मेदिनीनगर के हमीदगंज मोहल्ला स्थित कंदा खांड में घर बना कर रहते थे. उसने भारतीय विकास समिति नाम से एक एनजीओ बना रखा है. जो पलामू जिले के चैनपुर प्रखंड स्थित सालातूआ, लातेहार जिले के बरवाडीह प्रखंड स्थित केचकी में एसबीएम के तहत शौचालय निर्माण का कार्य भी कर रहा है.

नागमणि लोहरा की पत्नी मीना देवी ने बताया कि 30 नवंबर की दोपहर वह रांची में अपने आंख का इलाज कराने की बात कर निकले. साथ ही 30 नवंबर की शाम 7:30 बजे रांची पहुंचने के बाद अपनी पत्नी से बात की थी. इसके बाद उससे किसी तक बात नहीं हुई है. फोन बार-बार बंद बता रहा है. उसने बताया कि कि पति का किसी के साथ वाद विवाद भी नहीं रहा है. वे एनजीओ के तहत कार्य को किया करते थे. रांची जाने के 20 दिनों बाद भी वापस नहीं लौटने से परेशान नागेंद्र के परिजनों ने शहर थाना में पहुंचकर लिखित आवेदन देते हुए सनहा दर्ज कराया है. 

वहीं पांच अलग-अलग दिनों में उसके अकाउंट से एक लाख 80 हजार रुपये की निकासी गई है. 30 दिसंबर से लापता नागमणि का कोई सुराग नहीं मिला है. लेकिन उसकी पत्नी मीना ने घर में रखे पासबुक की अपटूडेट कराया तो उसमें पांच अलग-अलग दिनों में उसकी खाते से एक लाख 80 हजार रुपये एटीएम से निकासी की बात सामने आयी. 1 दिसंबर को रांची चुटिया स्थित होटल कोनार्क के बगल में स्थित एटीएम से 40 हजार रुपये की निकासी की गई है. वहीं 4 दिसंबर को 40 हजार, 5 दिसंबर रातू रोड स्थित एटीएम से 40 हजार, 6 दिसंबर को 40 हजार व 7 दिसंबर को उसके खाते से 20 हजार की निकासी कर ली गई है.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *