पलामू : सीआरपीएफ जवानों ने किसानों के साथ खेतों में कुदाल और फावड़े चलाये

पलामू

पलामू : रविवार को सीआरपीएफ जवानों ने पलामू के नक्‍सल प्रभावित क्षेत्रों के किसानों के साथ उनके खेतों में कुदाल और फावड़े चलाकर श्रमदान किया. केन्द्रीय अर्द्धसैनिक बल (सीआरपीएफ) अब किसानों की मदद के लिए भी आगे आयी है. इस दौरान किसानों के हित में सीआरपीएफ की ओर से कई कार्यक्रम शुरू किये गये. पलामू जिले के घोर नक्सल प्रभावित और सुदूरवर्ती डगरा, कुहकुह कला, मनातू, चक, ताल, हरिहरगंज में सीआरपीएफ की 134 बटालियन द्वारा राष्ट्रीय किसान दिवस पर कार्यशाला का आयोजन किया गया.

सिविक एक्शन प्रोग्राम 2018 के तहत अलग-अलग क्षेत्रों में आयोजित कार्यशाला में 66 किसानों ने भाग लिया. कार्यशाला में उच्च गुणवता के बीज वितरित किए गये तथा कृषि पर आधारित वीडियो क्लीप दिखाकर अधिक उत्पादन के तरीकों के बारे में जानकारी दी गयी. फसलों की रोपाई, बुआई, उर्वरक एवं नये तकनीकी के बारे में कृषि वैज्ञानिकों द्वारा विस्तृत जानकारी दी गयी. डॉ अशोक कुमार सिंह द्वारा किसानों को मृदा परीक्षण के तरीकों के बारे में विस्तार से बताया गया.

कार्यशाला में कमांडेंट अरूण देव शर्मा ने कहा कि किसान भारत की अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं. आज भी भारत की 70 प्रतिशत जनसंख्या कृषि पर आधारित है. इसलिए किसान एवं कृषि क्षेत्र के विकास को नयी तकनीक और उपाय द्वारा बढ़ाने की आवश्कता है. आस-पास के खेतों में किसानों के साथ मिलकर सीआरपीएफ द्वारा श्रमदान भी किया गया.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *