गढ़वा : दोहरे हत्याकांड का मुख्य आरोपी अरुण दुबे चढ़ा पुलिस के हत्थे

गढ़वा

गढ़वा : सदर थाना क्षेत्र के बेलहारा गांव के भितवा टांड में तीन जून 2018 को घटी दोहरे हत्याकांड का मुख्य आरोपी अरुण दुबे को गढ़वा पुलिस उड़ीसा के गंजाम जिले के सिदेश्वर से गिरफ्तार कर गढ़वा ले आई। अरुण सदर प्रखंड के तिलदाग पंचायत की मुखिया श्वेता देवी का पति है। उसकी गिरफ्तारी 12 अप्रैल को हुई इसके बाद पुलिस आवश्यक प्रक्रिया पूरा करने के बाद उसे गढ़वा लाने में सफल रही। मालूम हो कि भितवा टांड़ में तीन जून को 2018 को गढ़वा थाना के रंका बौलिया निवासी आशीष दुबे तथा केतार थाना क्षेत्र के मेरौनी निवासी हिमांशु तिवारी की हत्या गोली मारकर कर दी गई थी। पुलिस के अनुसार आशीष व हिमाशु का भी आपराधिक इतिहास रहा था। रविवार को सदर थाना में पत्रकार वार्ता कर एसडीपीओ ने अरुण दुबे तथा इसके गिरोह के संबंध में कई खुलासे किये। इन्होंने बताया कि अरुण दुबे के विरुद्ध गढ़वा थाना में छह तथा पलामू जिले के चैनपुर थाना में हत्या समेत रंगदारी व अपहरण के एक मामला दर्ज है। इन्होंने बताया कि एसपी शिवानी तिवारी को गुप्त सूचना मिली थी कि दोहरे हत्याकांड का भगोड़ा सह मुख्य आरोपी अरुण दुबे लोकसभा चुनाव के दौरान बाधा उत्पन्न करने के मकसद से गढ़वा आने वाला है। सूचना के आलोक में एसपी ने एसडीपीओ के नेतृत्व में एक टीम गठित कर अरुण दुबे की गिरफ्तारी की जिम्मेदारी सौंपी। इसके आलोक में गढ़वा थाना के पुअनि अमर दयाल राम, स्वामी रंजन ओझा व साइबर सेल के राकेश रंजन उड़िसा के सिदेश्वर गांव जा धमके। वहां इन्होंने स्थानीय पुलिस की मदद से अरुण दुबे की खोजबीन शुरू की। इस दौरान इन्हें पता चला के अरुण दुबे एक क्रेशर पर बतौर मैनेजर के पद पर काम कर रहा है। अरुण यहां नाम बदलकर पंडित जी के नाम से नौकरी कर रहा था। सूचना के आलोक में पुलिस वहां पहुंचकर उसे धर दबोची। एसडीपीओ ने बताया कि जेल में बंद पलामू जिले का कुख्यात विकास दुबे समेत इसके गिरोह के सदस्यों के साथ अरुण लगातार बातचीत कर अपराधिक घटनाओं को अंजाम देने की योजना बना रहा था। वह कुछ कर पाता इससे पूर्व ही पुलिस ने इसे धर दबोचा। एसडीओ ने बताया कि दोहरे हत्याकांड में नामजद सात अभियुक्तियों में अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। फरार चल रहे शेष दो लोगों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस प्रयासरत है। पत्रकार वार्ता में इंस्पेक्टर सह थाना प्रभारी अनिल कुमार सिंह, स्वामी रंजन ओझा, अमर दयाल राम समेत कई पुलिस पदाधिकारी उपस्थित थे।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *