मेदिनीनगर : एक दशक बाद यहां भाजपा ने लहराया था परचम

पलामू

मेदिनीनगर : पलामू लोकसभा सीट पर एक समय कांग्रेस का एकछत्र राज था। बाद में भाजपा ने सेंध लगाते हुए इस सीट पर चार बार कब्जा जमाया। इस सीट पर राजद ने 2005 के आम चुनाव व 2007 के उपचुनाव में तथा एक बार झामुमो काबिज रही है। 2014 के लोकसभा आम चुनाव में भाजपा प्रत्याशी विष्णु दयाल राम ने राजद प्रत्याशी मनोज भूईयां को हराकर एक दशक के बाद कब्जा जमाया था।

इस चुनाव में भाजपा को चार लाख 76 हजार 513 वोट मिले थे। राजद प्रत्याशी मनोज कुमार भुईयां दो लाख 12 हजार 571 वोट प्राप्त कर दूसरे नंबर पर रहे थे। भाजपा ने राजद को दो लाख 63 हजार 982 मतों से करारी शिकस्त दी थी। तीसरे नंबर पर झारखंड विकास मोर्चा प्रजातांत्रिक के प्रत्याशी घूरन राम थे। इन्हें एक लाख 56 हजार 32 मत मिले थे।

2009 में झामुमो के सिटिंग सांसद कामेश्वर बैठा को टिकट नहीं मिला था। इस सीट से झामुमो ने प्रत्याशी भी नहीं उतारा था। इससे नाराज हुए पूर्व नक्सली सीटिंग सांसद कामेश्वर बैठा ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े थे। लेकिन इन्हें महज 37 हजार 43 वोट मिले थे। बसपा प्रत्याशी रामपति रंजन को 20 हजार 481 व निर्दलीय प्रत्याशी श्याम लाल राम को 9592 वोट मिला था।

रविंद्र कुमार रवि को 9145, भाकपा माले के प्रत्याशी सुषमा मेहता को 8386, जदयू प्रत्याशी पलामू के पूर्व सांसद जोरावर राम को 7538 मत मिले थे। अन्य निर्दलीय विनोद राम को 8889, अशोक राम को 5648, बहुजन मुक्ति पार्टी के लालदेव राम को 4432 मत मिले थे। इसमें नोटा को 18287 मत मिला था।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *