40 वर्षीय विद्या उरांव की मौत उतराखंड के नैनीताल में

श्री बंशीधर नगर : थाना क्षेत्र के भोजपुर गांव निवासी मुनी उरांव के 40 वर्षीय पुत्र विद्या उरांव की मौत उतराखंड  के नैनीताल जिला अंतर्गत लाल कुआं में, काम करने के दौरान चाल धसने से हो गई।

श्री बंशीधर नगर : थाना क्षेत्र के भोजपुर गांव निवासी मुनी उरांव के 40 वर्षीय पुत्र विद्या उरांव की मौत उतराखंड  के नैनीताल जिला अंतर्गत लाल कुआं में, काम करने के दौरान चाल धसने से हो गई। मृतक का शव शुक्रवार की रात 12 बजे उत्तराखंड से एंबुलेंस लेकर आई। शव आने पर परिजनों के साथ साथ पूरा गांव में गम का माहौल छा गया। 

परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार साथ काम करने वाले लालमोहन उराव ने बताया कि वन विभाग के तहत निगम कम्पनी में कार्य करता था । उसी में मिट्टी का खुदाई कर रहा था । एकाएक मिट्टी धसने लगी। जिससे उसी में दब गया और मौत हो गया। लालमोहन ने बताया कि एक गाड़ी मिट्टी लोड करने पर आठ सौ रुपए मजदूरी मिलता था। दिनभर में एक या दो गाड़ी मिट्टी लोड कर पैसा कमाता था। उन्होंने बताया कि मौत होने के बाद वहां से सरकारी एंबुलेंस से घर रात बारह बजे छोड़ा गया।

घर का एक ही है आदमी कमाने वाला पांच परिजन खाने वाले:- स्थानीय लोगों ने बताया कि लाल मुनि उरांव के पत्नी सहित तीन लड़का  और एक लड़की है। सभी बच्चे अभी छोटे हैं और गांव के ही सरकारी विद्यालय में पढ़ते हैं। लोगों का ऐसे सवाल था कि आखिर अब इसके परिजनों का हाल क्या होगा।


शव पहुंचते ही पूरा क्षेत्र गमगीन हो गया:-1 दिन पूर्व ही थाना क्षेत्र के मार्चवार ग्राम में मजदूर की मौत के बाद यह दूसरी मौत है जहां मजदूर कमाने गया था। लोक डाउन के कारण वही फस गया था। इसके बाद ही वो आने की तैयारी में थे, लेकिन घर की जिम्मेदारी से इतना जकड़ा हुआ था कि लोक डाउन में भी मिट्टी लोडिंग का कार्य करता रहा। घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल हो चुका था। वहीं पूरे क्षेत्र में मातम का माहौल पसरा हुआ है।


इस संबंध में पूछे जाने पर एसडीओ कमलेश्वर नारायण ने बताया कि सरकार द्वारा जो लाभ मिलता है वह लाभ मजदूर के परिजनों को मिलेगा।