महिला 4 बच्चियां को दिया जन्म, एक की मौत

चैनपुर : पलामू जिला की एक प्रसूता की कोख से चार बच्चियों ने जन्म लिया। बाद में एक बच्ची की मौत हो गई।

महिला 4 बच्चियां को दिया जन्म, एक की मौत

चैनपुर : पलामू जिला की एक प्रसूता की कोख से चार बच्चियों ने जन्म लिया। बाद में एक बच्ची की मौत हो गई। प्रसूता पलामू के चैनपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत भड़गांवा पंचायत के पिडरा गांव निवासी संजय भुइयां की पत्नी हैं। पेट में दर्द होने के बाद प्रसूता को शनिवार तड़के करीब 3 बजे चैनपुर प्रखंड मुख्यालय स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। चिकित्सक व कर्मचारियों के अथक प्रयास से सामान्य प्रसव हुआ। बारी-बारी से 4 बच्चियों ने जन्म लिया। अमूमन एक बच्ची का वजन 1.35 किलो बताया जाता है। वजन कम रहने के कारण चैनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सकों ने बेहतर इलाज के लिए चारों नवजात बच्चियों को जिला मुख्यालय मेदिनीनगर स्थित पलामू मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर कर दिया। यहां पहुंचने पर जांच के दौरान एक बच्ची मृत पाई गई। शेष तीन बच्चियों को बेहतर इलाज के लिए अस्पताल एसएनसीयू में भर्ती कराया गया है।

पलामू मेडिकल कॉलेज अस्पताल के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. अनिल कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि अस्पताल पहुंचने पर एक नवजात बच्ची मृत पाई गई। तीनों बच्चियों का इलाज एसएनसीयू में चल रहा है। वजन कम रहने के कारण थोड़ी परेशानी है। हालांकि तीनों बच्चियां फिलहाल ठीक हैं। प्रसूता के पति संजय भुइयां ने बताया कि उनकी पत्नी के पेट में दर्द शुरू हुआ तो चैनपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां चारों बच्चियों का जन्म हुआ। हालांकि वे दिन के एक बजे तक अपनी बच्चियों का चेहरा तक नहीं देख सके थे। बाद में एसएनसीयू में बच्चियों को देखा। जानकारी मिलने के बाद प्रसूता के परिवार के अलावा गांव के कई लोग पीएमसीएच पहुंचे। हालांकि एसएनसीयू में रहने के कारण बच्चियों को सभी लोग देख नहीं सके। प्रसूता के पति संजय भुईंया के अलावा श्रवण कुमार, संजय कुमार, कृष्ण कुमार, कौशल्या देवी व संगीता देवी भी पीएमसीएच पहुंची थीं।

इधर, प्रसूता रीता देवी का इलाज चैनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में चल रहा है। चैनपुर स्वास्थ्य विभाग की कर्मचारियों ने प्रसूता महिला को नवजात बच्चियों का जन्म प्रमाण पत्र भी दिया।