3 आदिम जनजाति बच्चों को पुलिस ने करवाया मुक्त, एक दलाल गिरफ्तार

पलामू

प्रमंडलीय मुख्यालय मेदिनीनगर के टाउन महिला थाना सह बाल संरक्षण थाना ने दलालों के चंगुल से तीन नाबालिग बच्चों को मुक्त करवाया है. पुलिस ने मामले में एक दलाल को गिरफ्तार किया है.

आपको बता दें कि दलाल तीनों बच्चों को मजदूरी के लिए गुजरात ले कर जा रहे थे. वहीं मुक्त करवाए गए सभी बच्चें आदिम जनजाति के रहने वाले हैं. सरकार ने आदिम जनजातियों को संरक्षित की श्रेणी में रखा है. तीनो बच्चें पलामू के पाटन और छतरपुर के इलाके के रहने वाले हैं. महिला थाना प्रभारी दुलार चौड़े ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी की कुछ बच्चों को मजदूरी के लिए बाहर ले जाया जा रहा था. इसी सूचना के आलोक में पुलिस ने रेलवे स्टेशन रोड में छापेमरी कर बच्चों को मुक्त करवाया गया.

वहीं, मौके से दलाल संजय यादव को गिरफ्तार किया गया है. दलाल संजय यादव छतरपुर थाना क्षेत्र के डाली का रहने वाला है. वह सरिया फैक्ट्री में ठेकदार का मुंसी है और मजदूर सप्लाई का काम करता है. उसने पुलिस को बताया है कि बच्चों से सरिया का ढुलवाने का काम करवाया जाना था, एक टन सरिया की ढुलाई पर 100 रूपए मिलता है. संजय यादव पहले भी इस तरह का काम कर चूका है. महिला थाना प्रभारी दुलर चौड़े ने बताया कि संजय यादव को गिरफ्तार किया गया है जबकि मुक्त करवाए गए बच्चों को सीडब्लूसी को सौंपा गया है. बच्चों और उनके परिजनों के काउंसलिंग के बाद बच्चों को परिजनों को सौंपा जाएगा. दो दिन पहले भी पुलिस ने दलालों के चंगुल से नौ बच्चों को मुक्त करवाया था.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *