महिला संग दो मासुमों का शव कुआं से बरामद, सनसनीएसपी ने लिया घटना स्थल का जायजा, ससुराल पक्ष के पांच पर हत्या का मामला दर्ज | Capital News Palamu
Title  महिला संग दो मासुमों का शव कुआं से बरामद, सनसनीएसपी ने लिया घटना स्थल का जायजा, ससुराल पक्ष के पांच पर हत्या का मामला दर्ज
महिला संग दो मासुमों का शव कुआं से बरामद, सनसनीएसपी ने लिया घटना स्थल का जायजा, ससुराल पक्ष के पांच पर हत्या का मामला दर्ज
Ravi...


पलामू जिला में एक ही परिवार के तीन लोगों का शव मिलने की हृदय विदारक घटना सामने आयी है। नावाबाजार थाना अंतर्गत राजहरा गांव के अलग-अलग कुआं से एक महिला और दो बच्चों का शव पुलिस ने बरामद किया है। मृतक रजहारा निवासी  ब्रजकिशोर पांडेय के पुत्र आशिष पांडेय की पत्नी सोनी देवी और उनका तीन वर्षीय पुत्र संदर्शी व पांच वर्षीय पुत्री समृद्धि शामिल है। घटना की सूचना मिलने पर पलामू एसपी संजीव कुमार व एसडीपीओ सुरजीत कुमार ने घटनास्थल पर पहुंचकर जायजा लिया। इस मामले में ससुराल पक्ष के पांच लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया गया है। इसमें मृतका सोनी देवी के पति आशिष पांडे, ससुर ब्रजकिशोर पांडे, भसुर श्रीकांत पांडे के अलावे उनकी सास व गोतनी पर पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया है।

मायके वालों ने लगाया हत्या का आरोप : पोलपोल के सिंदुरिया निवासी सोनी की शादी वर्ष 2014 में आशीष पांडेय के साथ हुई थी। सोनी के मायकेवालों का आरोप है कि शादी के बाद से ही उनकी बेटी को ससुरालवाले प्रताड़ित किया करते थे। इस संबंध में लड़की ने कभी भी गंभीर शिकायत नहीं की। न ही हाल फिलहाल में कोई लड़ाई झगड़े की बात हुई थी। इसके बावजूद लड़की पक्ष के लोगों ने ससुरालवालों पर हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस से न्याय की गुहार लगायी है। इधर गुरूवार की रात्रि को ही सोनी के ससुरालवालों ने अपने बच्चों के साथ घर से भागने की अफवाह गांव में फैला दी थी और थाने में लापता होने का सनहा भी दर्ज कराया। पुलिस ने इस मामले को गंभीरत से लिया और उसके पति, ससुर व भसुर को हिरासत में लेकर सख्ती से  पूछताछ की। उनके निशान देह पर  उनके घर के सामने कुँआ से दो बच्चे का शव बरामद किया है । वही दूसरे कुएं से सोनी देवी का शव बरामद किया गया।  

हर हाल में दोषी हैं ससुराल पक्ष के लोग : एसपी मृतका सोनी देवी और उनके दो बच्चों के मौत या हत्या की गुत्थी पोर्स्टमार्टम के बाद ही सुलझेगा। लेकिन हर हाल में ससुराल पक्ष के लोग दोषी हैं। एसपी संजीव कुमार ने घटनास्थल का जायजा लेने के बाद उक्त बातें कही। उन्होंने कहा कि हत्या या आत्महत्या का पता तो बाद में चलेगा लेकिन दोनों मामले में ससुराल वाले दोषी हैं।  यदि महिला आत्महत्या भी की होगी तो ससुराल वाले के प्रताड़ना से तंग आकर। सबके आँखें हुई नम पोस्टमार्टम के बाद राजहरा गांव में एक साथ तीन शव पहुचने पर सबके आँखे नम हो गई । जब दो छोटे बच्चे और एक महिला के शव एक ही साथ घर से निकला तो सबके जुबां पर बस एक ही बात थी कि आखिर इन मासुमों का क्या गुनाह था। जिसकी सजा इन्हें मिली।



Palamu
1 K Views
17-10-2020