लातेहार : महुआडांड़ व नेतरहाट में गिरते पारे ने बढ़ाई गरीबों की परेशानी

लातेहार

महुआडांड़ : महुआडांड़ व नेतरहाट सहित पूरे प्रखंड में ठंड का सितम गरीबों पर कहर बनकर टूट पड़ा है। शासन-प्रशासन का इस ओर ध्यान नहीं जा रहा, सभी गरीबों को लिए न तो कंबल बांटे जा रहे हैं न ही अलाव की व्यवस्था ही अब तक की गई है। ठंड से बचने के लिए गरीब लोग इधर-उधर से कचरा लाकर जला रहे हैं और खुले आसमान के नीचे किसी तरह रात बिता रहे हैं। नेतरहाट में तो पारा शून्य पर चला गया है। शनिवार की रात्रि ठंड के इस कदर पड़ी कि पानी से भरी बाल्टी में बर्फ जम गई थी। इससे फसल भी बर्बाद हो रही है नेतरहाट के रहने वाले पूर्व पंसस अजय प्रसाद, पूर्व मुखिया सुधीर वृजिया, तेजनारायण किसान ने बताया कि शनिवार की रात्रि में ओस की बूंदें जम गई। वहीं दिन प्रतिदिन कोहरे के साथ ठंड का प्रकोप बढ़ने लगा है। सर्द हवाओं के कारण ठंड ने जोर पकड़ लिया है। ठंड से ठिठुरते गरीब लोग इधर उधर पड़ी लकड़ी, टायर और कागज जलाकर सर्दी से निजात पा रहे हैं। शाम ढलते ही गरीब तबके के लोग इकट्ठा होकर अलाव जलाते हैं और वहीं रात काट देते हैं। लोगों के अनुसार सरकार ने अब तक गरीबों के लिए कोई व्यवस्था नहीं की है। गरीबों को न तो कंबल दिया गया है और न ही अलाव के लिए लकड़ी। वहीं महुआडांड़ में न्यूनतम तापमान 3 डिग्री और अधिकतम तापमान 24 डिग्री रिकॉर्ड किया गया है। लोगों को ठंड से बचने के लिए सावधानी की जरूरत है क्योंकि सुबह और शाम के समय में पारा और भी कम हो जाता है। शासन-प्रशासन ने ठेला-रिक्शा चलाने वालों, मजदूरों और ऐसे गरीबों पर ध्यान नहीं दिया तो मौसम के साथ सिस्टम की मार भी गरीबों को झेलनी पड़ेगी।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *