पलामू : पुलिस-प्रशासन की मिलीभगत के कारण हुई अजय दुबे की हत्‍या : केएन त्रिपाठी

पलामू

पलामू : पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी ने मेदिनीनगर परिसदन में  कांग्रेस नेता अजय दुबे हत्याकांड के मामले में प्रेसवार्ता कर पुलिस- प्रशासन पर हत्या कराने का आरोप लगाया और कहा कि ज़िला प्रशासन की  लापरवाही के कारण हत्या हुई.

केएन त्रिपाठी ने बताया कि अजय दुबे ने पहले ही पुलिस को इसकी सूचना दे रखी थी जिसके बाद पुलिस ने दोनों पक्षको बुलाकर समझौता भी कराया था और कुछ ना होने का जिम्मेदारी भी लिया था, लेकिन उसकी हत्या गोली मार  कर दी गई.

प्रेस वार्ता के दौरान श्री त्रिपाठी ने कहा कि प्रशासन भ्रष्टाचार में लिप्त है. उन्होंने अजय दुबे हत्याकांड के संदर्भ में बताया कि इसमें पुलिस का सीधा हाथ लग रहा है. उन्होंने बताया कि  मिलीभगत के कारण अजय दुबे की हत्या हुई है. उन्होंने पुलिस अधीक्षक से 48 घंटे के अंदर मामले का अध्ययन करने की मांग की है. आगे श्री त्रिपाठी ने कहा कि यदि पुलिस अधीक्षक इस मामले में गंभीरता पूर्वक  जांच कर  इस घटना में शामिल  पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई नहीं करती है,  तो कांग्रेस पार्टी अपने स्तर से सरकार से सीबीआई की जांच के लिए मांग करेगी.

श्री त्रिपाठी ने बताया कि अपराधियों को पुलिस संरक्षण दे रही है. उन्होंने बताया कि अजय दुबे की हत्या के पहले पुलिस और दवा व्यवसायियों के बीच बैठक की गई थी. थाने में ही दोनों को बुलाकर सेटेलमेंट किया गया था.

थाने में लिखित शिकायत दर्जकी गई और वहां दोनों को बैठाकर राशि देने का बीड़ा उठाया,  लेकिन सेटेलमेंट होने के बाद भी आखिर हत्या कैसे हुई, यह एक महत्वपूर्ण विषय है. अजय दुबे की हत्या क्यों की गई,  यह भी एक संशय की स्थिति है. उन्होंने कहा कि इसमें बहुत बड़ी साजिश है. उन्होंने कहा कि अभी भी 5 से 7 अपराधी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं, आखिर क्यों.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *