आपरेशन कनेक्ट का दिखा रंग, दो टीपीसी कमांडर ने किया समर्पण

गढ़वा

गढ़वा : परिजनों को विश्वास में ले नक्सलियों के आत्मसमर्पण के लिए चलाए जा रहे आपरेशन कनेक्ट ने रंग दिखाना शुरू कर दिया है। इसके तहत पुलिस लाइन में सोमवार को टीपीसी के दो जोनल कमांडर महेंद्र ¨सह खरवार उर्फ लालधारी ¨सह तथा अक्षय उर्फ अशोक मेहता उर्फ निर्भय ने आत्मसमर्पण किया। मौके पर पलामू रेंज के डीआइजी विपुल शुक्ला मौजूद थे। महेंद्र ¨सह खरवार पलामू जिले के चैनपुर थाना के करसो गांव का रहने वाला है। वहीं अक्षय बिहार के औरंगाबाद जिले के बारुण थाना के रस्तीपुर का मूल निवासी है। राज्य सरकार के सरेंडर पॉलिसी के तहत महेंद्र ¨सह खरवार को पांच लाख तथा अक्षय को दो लाख का चेक दिया गया। पुलिस के अनुसार महेंद्र ¨सह के विरुद्ध पलामू तथा गढ़वा जिले के विभिन्न थानों में कुल 44 मामले दर्ज हैं। वहीं अक्षय के विरुद्ध मझिआंव, कांडी समेत जिले के दूसरे थानों में 18 मामला दर्ज हैं। डीआइजी विपुल शुक्ला ने कहा कि समाज से भटके हुए लोग, विनाश नहीं विकास का रास्ता चुनें और सरकार के आत्मसमर्पण नीति के लाभ उठाएं। उपायुक्त हर्ष मंगला ने कहा कि सरकार की सरेंडर पॉलिसी के तहत जो भी सहायता दी जानी है, दोनों नक्सलियों को वह लाभ जल्द दी जाएगी। एसपी शिवानी तिवारी ने कहा कि ऑपरेशन कनेक्ट के तहत इनके परिजन से संपर्क कर आत्मसमर्पण कराने को लेकर प्रोत्साहित किया गया था। इसका सार्थक परिणाम देखने को मिला है। सरेंडर करने वाले नक्सली महेंद्र सिंह खरवार ने कहा कि एसपी मैडम के समझाने पर सरेंडर किया हूं। पहले पुलिस को लेकर मन में संशय था लेकिन मैडम के संपर्क में आने के बाद वह संशय समाप्त हो गया। महेंद्र ने भटके लोगों से सरेंडर कर बेहतर ¨जदगी जीने का रास्ता चुनने की अपील की।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *