जश्न-ए-ईद मिलादुन्नबी पर निकला जुलूस

लातेहार

चंदवा : जश्न-ए-ईद मिलादुन्नबी पर मुस्लिम धर्मावलंबियों ने जुलूस निकाला। अल सुन्नत गुलसने सैयदना मदरसा शुक्रबजार, कामता, बेलवाही और परसाही से निकला जुलूस हरैया चैंक, सुभाष चैंक, मुख्य पथ, इंदिरा चैंक होते हुए जिला परिषद बस स्टैंड पहुंचा। जहां कुरआन ख्वानी का आयोजन किया गया। जुलूस में शामिल अकीदतमंद जश्न ए ईद मिलादुन्नबी ¨जदाबाद, हुजूर की आमद मरहबा, सरकार की आमद मरहबा जैसे नारे लगा रहे थे। कुरआन ख्वानी का आगाज सैयदना मदरसा के मोहतमीम हाफीज शेरमोहम्मद ने कुरआन के तेलावत से किया। मौके पर कहा कि पैगंबर हजरत मुहम्मद साहब के पैदाईश जो ईद मिलादुन्नबी के नाम से मशहूर है। पूरी दुनिया में मनाया जाता है। ये दुनिया में आखिरी नबी थे। इस आखिरी नबी ने पूरी दुनिया को इंसानियत का पाठ पढाया और खुदा के हुक्म के बारे में लोगों का बताया। उन्होंने ही इंसान को इंसान बनना सिखाया। इससे पहले पूरे अरब देशों का माहौल बेहद बदतर था। इंसान को इंसान नहीं बल्कि गुलाम समझा जाता था लेकिन इन्होंने लोगों को बराबरी कर दर्जा दिया। हालांकि शुरुआत में काफी विरोध हुआ लेकिन धीरे धीरे इस्लाम फैलता चला गया। बताया कि यह मुकम्मल और शांति का मजहब है। इनके बताए गए मार्ग पर चलकर पूरे विश्व का कल्याण किया जा सकता है। मौलाना मो0 मोहसीन रजा, कारी अकील हुसैन खान ने भी तेलावत की। मदरसों के बच्चों ने एक से बढ़कर एक नातिया कलाम पेश किया। 

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *