नगर उंटारी में एक सौ पारा शिक्षकों ने दी गिरफ्तारी

गढ़वा ब्रेकिंग न्यूज़

नगर उंटारी : एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा झारखंड के आह्वान पर प्रखंड के पारा शिक्षकों ने अपनी मांगों के समर्थन में गुरूवार को थाने में गिरफ्तारी दिया। शाम में सभी पारा शिक्षकों को थाने से रिहा कर दिया गया। इसमें पारा शिक्षकों पर रांची में पुलिस द्वारा की गई लाठीचार्ज के दोषियों पर कार्रवाई करने, जेल में बंद 280 पारा शिक्षकों को रिहा करने, 12 सौ पारा शिक्षकों पर किए गए फर्जी मुकदमा को वापस लेने तथा सभी पारा  शिक्षकों को स्थायी कर समान काम के बदले समान वेतन देने की मांग शामिल है। जेल भरो अभियान का नेतृत्व संघ के प्रखंड अध्यक्ष भूपेंद्र प्रताप देव कर रहे थे। संघ के प्रखंड अध्यक्ष भूपेंद्र प्रताप देव ने बताया कि सरकार पारा शिक्षकों की मांगों पर सहानुभूति पूर्वक विचार करने के बजाय लाठी डंडे के बदौलत शासन करना चाहती है। जिसे पारा शिक्षक कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे। हम अपनी मांगों को लेकर आंदोलनरत हैं। 16 वर्षों तक लगातार सुदूर्वरती इलाकों में शिक्षा का अलख जगाते आ रहे हैं। इसके बावजूद इतनी कम मानदेय पर काम करना मुश्किल है। जबकि सुप्रीम कोर्ट ने समान काम के लिए समान वेतन का निर्देश दिया है। जहां भी भाजपा की सरकार है वहां के पारा शिक्षकों की सेवा स्थायी कर उन्हें वेतनमान दिया जा रहा है। इसके बावजूद झारखंड सरकार पारा शिक्षकों के साथ नाइंसाफी कर रही है। जब तक हमारी मांगे पूरी नहीं होंगी तब तक आंदोलन जारी रहेगा। गिरफ्तारी देने वालों में संध्या कुमारी, अंजू कुमारी, सीमा कुमारी, आशा कुमारी, कुमारी अनामिका, रूबी कुमारी, सुनीता कुमारी, सीमा देवी, पुष्पा कुमारी, परवीन बानो, हृदय प्रसाद गुप्ता, राधे प्रसाद यादव, गो¨वद ¨सह, अनूप श्रीवास्तव, रामचंद्र यादव, सत्येंद्र कुमार ठाकुर, अलीम अंसारी, मदन राम, इसरार अहमद, जयशंकर प्रसाद, नीलेश्वर मेहता, भीम ¨सह, मनोज पांडेय, आशीष कुमार सहित एक सौ से अधिक पारा शिक्षकों का नाम शामिल है।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *