मेदिनीनगर का सबसे बड़ा GLA कॉलेज फिर से घिरा विवादों में , अनशन पर बैठे छात्र

पलामू

 

कहने को तो शिक्षा का मंदिर है पर जब आप उस मंदिर में जाएंगे तो शांत माहौल के बदले नारेबाजी का कोलाहल कानों में गूंजने लगेगा छात्रों के बजाय बिचौलिये नजर आने लगेंगे, छात्रों के पठन पाठन  के लिए स्थापित महाविद्यालय में नामांकन के लिये छात्र अनशन पर बैठे नजर आएंगे प्रिंसिपल चैम्बर में जाएंगे तो लगेगा कि अदालत तो नही आ गये, तर्क वितर्क का खेल में प्राचार्य महोदय खुद को असमर्थ बता सब कुछ ठीक कर देने का दुहाई देते नजर आएंगे शायद अब तक आपको ये पहेली समझ मे आ गयी होगी, और यदि नही आयी तो कैपिटल न्यूज़ के इस बुलेटिन में देखिये शिक्षा का मंदिर या अखाड़ा…?

अब शायद आपको समझ आ चुका होगा कि हमने शिक्षा के मंदिर को अखाड़ा जो बताया था हर कदम पर एक विवाद जिधर भी जाएंगे उधर तूतू मैमे सुनाई पड़ेगा,छात्रों के भविष्य निर्माण करने की जिम्मेवारी जिन कंधो पर है वो इतने कमजोर कैसे हो गए कब तक सिस्टम में सुधार हो पायेगा कहना मुश्किल है

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

4 thoughts on “मेदिनीनगर का सबसे बड़ा GLA कॉलेज फिर से घिरा विवादों में , अनशन पर बैठे छात्र

  1. Today, I went to the beach with my kids. I found
    a sea shell and gave it to my 4 year old daughter and said “You can hear the ocean if you put this to your ear.” She put the shell to
    her ear and screamed. There was a hermit crab inside and it pinched her ear.
    She never wants to go back! LoL I know this is totally off topic but I had
    to tell someone!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *