सदभावना की मिसाल, एक ही जगह मानस पाठ और अजान, लोगों के बीच नहीं होती कोई लड़ाई

लातेहार

लातेहार : धर्म के आधार पर समाज को बांटकर अपनी रोटी सेंकने वाले लोग भले ही राम-रहीम के बीच दीवार खड़ी करते रहे हों, लेकिन लातेहार एक ऐसा शहर है जहां के लोग एक साथ ही मानस पाठ और नमाज पढ़ते है.

दरअसल, जिले में गत 45 सालों से जिस स्थान पर नवाह्न पारायण यज्ञ होता है. उस स्थान के मात्र 20 मीटर दूरी पर शहर का सबसे बड़ा मस्जिद भी स्थित है. मानस पाठ के दौरान जब नमाज का समय होता है तो हिंदू समुदाय के द्वारा लाउडस्पीकर को बंद कर दिया जाता है. वहीं, मस्जिद में भी बिना लाउडस्पीकर के नमाज अदा की जाती है. इस आपसी सौहार्द को देखकर समाज का भला चाहने वाले सभी लोगों का मन खुश हो जाता है.

यज्ञ समिति के अध्यक्ष प्रमोद प्रसाद सिंह ने बताया कि पूर्वजों ने जिस सोच के साथ आपसी सौहार्द की इस परंपरा को आरंभ किया था. उसे वे लोग हमेशा निर्वहन करते रहेंगे.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *