लातेहार : बेटियों को बोझ न समझें, पढ़ाई से लेकर विदाई तक की जिम्मेदारी उठाएगी सरकार: CM

लातेहार

लातेहार: मुख्यमंत्री सुकन्या योजना जागरूकता कार्यक्रम में भाग लेने सीएम रघुवर दास लातेहार पहुंचे. मुख्यमंत्री ने उपस्थित लोगों को योजना की जानकारी देते हुए कहा कि पलामू प्रमंडल के लगभग 4 हजार बेटियों के खाते में डीबीटी के माध्यम से सुकन्या योजना की राशि भेजी जाएगी. बेटियों को बोझ न समझें, उनकी पढ़ाई से विदाई तक की जिम्मेदारी सरकार की है.

सीएम रघुवर दास ने सुकन्या योजना जागरूकता कार्यक्रम के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि बेटियों के जन्म से लेकर उसकी पढ़ाई और शादी तक की खर्च सरकार उठाएगी. इसके तहत समय-समय पर बेटियों के खाते में पैसे भेजे जाएंगे.

मुख्यमंत्री ने योजना के माध्यम से लोगों को जानकारी दी कि बेटियों की शादी के दौरान सरकार उन्हें 30 हजार रुपए उनके खाते में भेजेगी. उनके जन्म के समय उसकी मां के खाते में 5 हजार की राशि दी जाएगी. उसके बाद जैसे ही बेटी 5 साल की होगी फिर से उसके खाते में 5 हजार दिए जाएंगे. पांचवीं क्लास पास होने के बाद उसे 5 हजार मिलेंगे फिर आठवीं क्लास में नामांकन के लिए 5 हजार मिलेंगे. दसवीं पास करने के बाद फिर बेटी के खाते में 5 हजार जाएंगे और 18 साल की उम्र पूरे होने पर उच्च शिक्षा के लिए उसे 10 हजार सरकार देगी. वर्तमान में राज्य के 27 लाख परिवार को इस योजना से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है.

वहीं, मुख्यमंत्री के कार्यक्रम को लेकर महिलाओं और बच्चों में खासा उत्साह देखा गया. सुकन्या योजना से लाभान्वित हुए बच्चियों ने प्रमाण पत्र दिखाकर मुख्यमंत्री के प्रति कृतज्ञता जाहिर की. 

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

1 thought on “लातेहार : बेटियों को बोझ न समझें, पढ़ाई से लेकर विदाई तक की जिम्मेदारी उठाएगी सरकार: CM

  1. It’s the best time to make some plans for the long
    run and it’s time to be happy. I’ve learn this post and if I could I desire
    to counsel you few fascinating things or advice. Maybe you can write subsequent articles
    referring to this article. I wish to learn even more things approximately it!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *