मेदिनीनगर : एनएच-98 पर देर रात तक चला ओवरलोडिग के खिलाफ अभियान

पलामू ब्रेकिंग न्यूज़

मेदिनीनगर : जिला परिवहन विभाग की कार्रवाई में बुधवार की देर रात राष्ट्रीय राजमार्ग-98 के छतरपुर थाना क्षेत्र में क्षमता से अधिक पत्थर लदे चार वाहनों को जब्त किया गया है। इनसे करीब एक लाख रूपए जुर्माना राशि की वसूली की गई। जानकारी के अनुसार जिले के उपायुक्त डा. शांतनु कुमार अग्रहरि के निर्देश के आलोक में ओवरलोडिग के खिलाफ अभियान के लिए विशेष टीम का गठन किया गया है। इस टीम को छतरपुर अनुमंडल में बड़े पैमाने पर ओवीलोडिग पत्थरों के परिवहन की लगातार सूचना मिल रही थी। इसी के आलोक में बुधवार की रात में छतरपुर क्षेत्र में बेरेकेटिग लगाकर अभियान शुरू किया गया। इस बीच इस क्षेत्र से गुजरने वाले वाहन संचालकों को चेकिग की सूचना मिल गई। इससे इनमें हड़कंप मच गया। जानकारी के अनुसार दर्जनाधिक वाहन मुख्य सड़क से पहले जंगली क्षेत्र में ही रोक दिए गए। मालूम हो कि नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने के कारण इस मार्ग पर रात बड़े पैमाने पर ओवरलोडिग किया जाता रहा है। इसमें शामिल लोग रात में परिवहन को अधिक सुरक्षित मानते है। बता दे कि पत्थर की ढुलाई के लिए खनन विभाग का 15 टन का चालान काटा जाता है, लेकिन इस चालान में 25 से 30 टन खनिज की ढुलाई की जाती है। इससे जिला खनन विभाग को सिर्फ छतरपुर अनुमंडल से जिला खनन विभाग को प्रति माह लाखों का राजस्व नुकसान हो रहा है। वहीं, चेकिग के क्रम में दो वाहन चालकों के ड्राईविग लाईसेंस भी फर्जी पाए गए। जिला परिवहन पदाधिकारी भागीरथ प्रसाद ने अभियान के निरंतर जारी रहने की बात कही है।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

1 thought on “मेदिनीनगर : एनएच-98 पर देर रात तक चला ओवरलोडिग के खिलाफ अभियान

  1. With havin so much content do you ever run into any problems of
    plagorism or copyright infringement? My blog has a lot of completely unique content I’ve either authored myself or outsourced but it looks like a
    lot of it is popping it up all over the internet without my permission. Do you know any methods to help protect against content from being ripped
    off? I’d really appreciate it.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *