शिकंजे में रिश्वतखोर इंजीनियर, ACB ने किया गिरफ्तार

पलामू ब्रेकिंग न्यूज़

पलामू : एसीबी की टीम ने लातेहार जिले के महुआडांड़ प्रखंड में तैनात मनरेगा के जेई प्रमोद कुमार को सात हजार रुपये रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया है. इंजीनियर ने पीसीसी सड़क निर्माण में एमबी बुक कराने के लिए घूस मांगा था.

बता दें कि रोड का निर्माण कर रहे ठेकेदार प्रदीप नगेशिया ने रिश्वत की रकम देने के लिए जेई को फोन किया. जेई ने प्रदीप को पार्वती रेस्ट हाउस में पहुंचने को कहा. जेई के पार्वती रेस्ट हाउस पहुंचने पर प्रदीप ने जैसे ही जेई प्रमोद के हाथों में केमिकल्स लगा सात हजार रुपये दिया, वैसे ही पहले से मौके पर मौजूद एसीबी टीम के सदस्यों ने रंगेहाथ दबोच लिया.

एसीबी की टीम ने की कार्रवाई

वहीं, बाद में एसीबी की टीम ने प्रमोद को हिरासत में लेकर पूछताछ के लिए प्रमंडलीय मुख्यालय डालटनगंज स्थित एसीबी कार्यालय ले आई. प्रमोद नगेशिया ने महुआडांड़ प्रखंड में मनरेगा के तहत सड़क स्वीकृत कराया था. सड़क की प्राक्कलित राशि दो लाख 48 हजार 700 रुपये थी. 

टीम का गठन कर कार्रवाई

सड़क निर्माण के लिए पूर्व में 67 हजार 500 रुपये की निकासी हो चुकी थी. बाद में जेई ने एमबी बुक कराने के नाम पर प्रदीप से सात हजार रुपये बतौर रिश्वत की मांग की. रिश्वत का पैसा नहीं देने पर जेई प्रमोद को एमबी बुक कराने के लिए बार-बार कार्यालय दोड़ना पड़ रहा था. बाद में प्रदीप ने थक कर इसकी शिकायत एसीबी की टीम से किया. एसीबी की टीम ने शिकायतकर्ता के सभी बिंदुओं की सत्यता की जांच के बाद टीम का गठन कर कार्रवाई की.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

1 thought on “शिकंजे में रिश्वतखोर इंजीनियर, ACB ने किया गिरफ्तार

  1. Hey there great blog! Does running a blog similar to this require a lot of work?
    I have virtually no understanding of coding however I was hoping to start my own blog in the near future.

    Anyhow, if you have any recommendations or techniques for new blog owners please share.
    I know this is off subject but I simply wanted to ask. Many thanks!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *