कस्तूरबा में नियम को ताख पर रख कर शिक्षकों की हुई नियुक्ति पार्ट टाइम बहाली में भी योग्य उम्मीदवार को किया गया

लातेहार

लातेहार जिले में 6 साल से कस्तूरबा विद्यालयों में पार्ट टाइम शिक्षकों के भरोसे काम चल रहा है। नियमित शिक्षक नहीं होने के कारण मनमाने तरीके से शिक्षक रखे जा रहे हैं। जिसमें विभाग की मिली भगत भी उजागर हुई है। नियम के विपरित जहां शिक्षकों का चयन किया जा रहा है वहीं मेरिट वालों को जानकारी भी नहीं दी जा रही है। इस संबंध में कई लोगों ने आपत्ति दर्ज करायी है। मनिका कस्तूरबा विद्यालय में हाल में पांच पार्ट टाइम शिक्षकों का नियुक्ति हुई। जिनमें एक दो दूसरे प्रखंड से भी आते हैं। किंतु मनिका की बहु बेटियों को दरकिनार कर नियुक्ति की गयी, जबकि वे सारी अहर्ता पूरी करते हैं। कई लोगों का तो आवेदन भी गायब कर दिया गया। यहां तक की कोई नोटिस भी जारी नहीं की गयी । जबकि नियमत: योग्य शिक्षकों के लिए प्रचार प्रसार किया जाना है।किंतु कमेटी के कुछ लोग पूर्व से ही लिस्ट बनाकर मनचाहे लोगों को रख लिया। आवेदन कर्ताओं का आरोप है कि इस संबंध में बीइइओ समेत तत्कालीन डीसी प्रमोद गुप्ता को भी जानकारी दी गयी थी। पूछे जाने पर बीइइओ नरेश गुप्ता ने बताया कि मनिका कस्तूरबा में पहले से लिस्ट बना हुआ था। डीइओ के निर्देश पर परीक्षा को देखते हुए नियुक्ति की गयी है। इसकी कोई वैकेंसी नहीं निकलती है। न ही कोई माप दंड होता है। मानदेय पर रखा जाता है। आज है कल चला जाएगा लोग।उन्होंने कहा कि सारी बातों की जानकारी डीइओ को भी है।

बीएड को ही रखना है कस्तूरबा में

कस्तूरबा विद्यालय का संचालन शिक्षा विभाग की मर्जी पर चलता है। सरकार के सभी नार्मस को दरकिनार कर अपनी मर्जी चलाते हैं। इस विद्यालय में उन्हीं शिक्षकों को रखना है जो बीएड हो। परंतु यहां इस नियम को भी ताख कर रख दिया गया है। विभाग की लापरवाही से 6 साल से नियमित शिक्षकों की नियुक्ति नहीं की गयी है। विभाग यह कह कर टाल देते हैं कि जिला प्रशासन के पास फाइल जाता है और वापस हो जाता है।यहां तक कि खाद्य सामाग्री समेत अन्य बस्तुओं की खरीदारी विभाग वगैर टेंडर के ही करता है। उसमें भी कर की चोरी बड़े पैमाने पर की जा रही है। यहां तो जीएसटी का पालन ही नहीं होता है। गत वर्ष मार्च के बाद कोई टेंडर नहीं निकाला गया। पुराने सप्लायर से ही खरीदारी की जा रही है।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

1 thought on “कस्तूरबा में नियम को ताख पर रख कर शिक्षकों की हुई नियुक्ति पार्ट टाइम बहाली में भी योग्य उम्मीदवार को किया गया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *