फर्जी नौकरी देनेवाले गिरोह का पर्दाफाश, बिहार से गिरफ्तार हुआ मास्टरमाइंड

गढ़वा ‎बड़ी ख़बर

गढ़वा : पुलिस ने रेलवे में फर्जी नौकरी देने वाले एक अंतर्राज्यीय गिरोह का पर्दाफाश किया है. पुलिस ने बिहार में घुसकर इस धंधे में संलिप्त मास्टरमाइंड सहित 5 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने उनके पास से रेलवे का फर्जी लेटर पैड, मुहर, लैपटॉप, मोबाइल आदि भी बरामद किया है.

बता दें कि गढ़वा के मंजूर आलम से इस गिरोह ने इलाहाबाद रेलवे में ठेकेदारी दिलाने के नाम पर 85 हजार की ठगी की थी. इसके बाद में उसे एक नकली लेटर बना कर दिया गया था. बाद में फिर 15 हजार रुपये की मांग की गई, मंजूर समझ गया था कि उसके साथ ठगी कर दी गई है. इसके बाद उसने थाना में इसकी प्राथमिकी दर्ज कराई.

गढ़वा एसपी शिवानी तिवारी के निर्देश पर इस मामले की गहनता से छानबीन शुरू हुई इस दौरान पता चला कि यह गिरोह गढ़वा, पलामू, उत्तर प्रदेश, बिहार एवं झारखंड के सीमावर्ती क्षेत्रों के लोगों से ठगी कर नौकरी और ठेकेदारी के लिए फर्जी लेटर बना कर देता है. एसडीपीओ ओमप्रकाश तिवारी ने बताया कि उनके और थाना प्रभारी अनिल कुमार सिंह के नेतृत्व में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए बिहार के रोहतास से इस गिरोह के मास्टरमाइंड अरविंद कुमार को गिरफ्तार कर लिया.

उसके बाद उसी जिले के ठुमहा गांव से बबन ठाकुर, नोहटा थाना के गजानन उपाध्याय, डेहरी मोहन बिघा गांव से सनी कुमार पटेल और मंटू कुमार सहित कुल 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया. उनके पास से रेलवे, बैंक, स्कूल, ब्लॉक के कुल 10 मुहर, लेटर बनाने वाला लैपटॉप, मोबाइल सहित अन्य कई दस्तावेज बरामद किए गए हैं.

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

1 thought on “फर्जी नौकरी देनेवाले गिरोह का पर्दाफाश, बिहार से गिरफ्तार हुआ मास्टरमाइंड

  1. I think that is among the so much vital information for me.
    And i’m satisfied studying your article. But should statement on few general issues, The web site style is wonderful,
    the articles is really excellent : D. Good activity, cheers

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *