डैम सफाई के नाम पर खर्च किए 40 लाख, जमीन पर नहीं दिख रहा कोई काम

लातेहार

लातेहार : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों को सुविधा पहुंचाकर उनकी आय दुगनी करने के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं. परंतु उनके प्रयास को सरकारी विभाग के लोग ही पलीता लगा रहे हैं. लातेहार का तुलबुल डैम इसका उदाहरण है. सुखाड़ के हालत में इस डैम से किसानों को राहत पहुंचाने के लिए 40 लाख रुपए खर्च किए गए. परंतु किसानों को उसका लाभ नहीं मिल पाया.

दरअसल, तुलबुल डैम के कैनाल से तुलबुल, डुडंगी, होटवाग समेत अनेक गांव के खेत सिंचित होते थे. परंतु डैम के कैनाल खराब होने से होटवाग और डुडंगी की ओर पानी का बहाव रूक गया था. ऐसे में बरसात से पहले लगभग 40 लाख रूपये खर्च कर इस डैम के कैनाल की सफाइ की गयी थी. लेकिन संवेदक ने सिर्फ कागज पर कैनाल की सफाई दिखा विभाग को गुमराह कर दिया. इधर विभाग भी पुरी तरह से लापरवाह बना रहा. 

इस कारण पैसे खर्च होने के बाद भी डैम का पानी खेतों तक नहीं पहुंच पाया. जिससे सुखाड़ के कारण लगभग 300 एकड़ में लगे धान मर रहे हैं. किसान बिजली यादव और बसंत ने कहा कि इस योजना के भ्रष्टाचार की भेट चढ़ जाने के कारण किसान ठगे गए हैं. 40 लाख में पानी खेत में नहीं पहुंचा. जबकि 8 साल पहले मनरेगा से तीन लाख रूपये खर्च कर पानी खेत में पहुंचा दिया गया था.

तुलबुल डैम में पानी लबालब भरा है. कैनाल का काम यदि सही ढंग से किया गया होता तो आज किसानों को पटवन के लिए तरसना नहीं पड़ता. परंतु कैनाल मरम्मती के नाम पर सिर्फ लूट मचाई गयी. मुखिया गुंजर उरांव ने कहा कि अब वे इस कैनाल को 14वीं वित्त की राशि से दुरूस्त करवाकर खेतों में पानी पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं. उधर लघु सिंचाई विभाग के अभियंता ने कहा कि वे अभी बाहर हैं. परंतु कैनाल में कुछ काम बाकी है. इसे जल्द पुरा करवाया जाएगा.

वहीं इस संबंध में पुछने पर लघु सिंचाई विभाग के जेई केदार प्रसाद ने कहा कि कैनाल मरम्मती में कुछ काम बाकी है. पुरा पैसा भी भुगतान नहीं किया गया है. बरसात के कारण काम रूका था. सरकार चाहे लाख प्रयास कर लें. परंतु जबतक भ्रष्ट लोगों पर  ठोस कार्रवाई नहीं की जाती है, तब तक किसी भी योजना को धरातल पर उतराना संभव नहीं हैं. 

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *