वनवासियों का आरोप, आक्रोश, हंगामा… उज्जवला योजना की खुली पोल

लातेहार

लातेहार : बेतला में वन विभाग के पदाधिकारियों के खिलाफ हंगामा करती महिलाओं ने भले ही वन विभाग के अधिकारियों पर गुस्सा दिखाने पहुंची थी, पर गलती से ही सही भाजपा सरकार की महत्वाकांक्षी उज्जवला योजना की पोल खुल गई। उनका आरोप था कि जलावन की लकड़ी लाने वाली महिलाओं को डराया धमकाया जा रहा, जलावन की लकड़ी लाने से रोका जा रहा है, उनसे टांगी वगैरह औजार छीने जा रहे हैं… इनका बस कसूर इतना है कि ये गरीब हैं। इनके घरों में गैस नहीं है… जिससे ये खाना पका सके। जबकि महिलाओं ने वन विभाग पर हरे एवं महंगे पेड़ों की अंधाधुंध कटाई का भी आरोप लगाया।

वनवासियों का अंधियारा मिटाऐगा उज्जवला..?

वन विभाग पर पेड़ों को काटने का आरोप लगाने वाली वनवासी बेतला निवासी महिलाओं ने तो लगाया ही उज्जवला योजना की पोल भी खोल कर रख दी। कल तक उसी क्षेत्र के सांसद पलामू के लेस्लीगंज में गैस बांटते नजर आए थे… यही भर नहीं, आए दिन सांसद, विधायक गैस बांटे जा रहे हैं… मगर सचमुच में जो इन योजनाओं के हकदार हैं उनके चुल्हे आज भी जलावन के सहारे जलते हैं… और धुंओं के बीच महिलाएं खाना पकाने को मजबूर हैं…।

(कैपिटल न्यूज़ पलामू को लाइव देखने और एप डाउनलोड करने के लिये यहां क्लिक करें)

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र होकर निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता...

Share This Post

1 thought on “वनवासियों का आरोप, आक्रोश, हंगामा… उज्जवला योजना की खुली पोल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *